अयोध्या / कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य का मायावती पर तंज, कहा- पैसे की राजनीति छोड़ बाबा साहब के सिद्धांतों पर चलें

अयोध्या में पत्रकारों से बातचीत करते कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य अयोध्या में पत्रकारों से बातचीत करते कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य
X
अयोध्या में पत्रकारों से बातचीत करते कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्यअयोध्या में पत्रकारों से बातचीत करते कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य

  • मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर भी साधा निशाना, कहा- अखिलेश का अराजक चेहरा उजागर
  • मायावती के मंत्रिमंडल में भी रह चुके हैं स्वामी प्रसाद, उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं भी दी

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2020, 05:15 PM IST

अयोध्या. उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री और कभी मायावती के बेहद करीबी रहे स्वामी प्रसाद मौर्य ने पूर्व मुख्यमंत्री मायावती पर तंज कसते हुए मंगलवार को कहा कि उन्हें पैसे की राजनीति छोड़कर बाबा साहब के बताए हुए मार्ग पर चलना चाहिए। मौर्य ने मायावती को जन्मदिन की बधाई भी दी और आरोप भी लगाया कि वह पैसे की राजनीति करती हैं। दरअसल, बुधवार को मायावती अपना 64वां जन्मदिन जन कल्याणकारी दिवस के तौर पर मनाएंगी।

मंगलवार को यहां एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे स्वामी प्रसाद ने बातचीत के दौरान यह बातें कही। इस अवसर पर उन्होंने सपा के मुखिया अखिलेश यादव को भी निशाने पर लिया। श्रम मंत्री ने कहा कि कन्नौज में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने डॉक्टर के साथ अभद्रता की व उन्हें डांट कर भगा दिया। अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। इतने बड़े संवैधानिक पद पर रहकर किसी के साथ अभद्रता शोभा नहीं देती।

अखिलेश के व्यवहार उनका अराजक चेहरा उजागर

मंत्री ने कहा, ''अखिलेश यादव का यह व्यवहार उनके अराजक चेहरे को उजागर करता है। समाजवादी पार्टी गुंडे व माफियाओं का अखाड़ा बन गई है। इसका कारण है कि जब पार्टी अध्यक्ष का यह रवैया है तो कार्यकर्ताओं को क्या हाल होगा? अखिलेश का यह कृत्य निंदनीय है।''

मौर्य ने कहा कि संवैधानिक पद पर रह चुके अखिलेश यादव को मर्यादित आचरण करना चाहिए। उनके इस आचरण से समाज में गलत संदेश गया है।

अखिलेश यादव ने कन्नाैज में डॉक्टर को डांटकर भगा दिया था

दरअसल, कन्नौज बस हादसे में घायलों का हाल जानने के लिए सोमवार को छिबरामऊ अस्पताल पहुंचे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव डॉक्टर पर भड़क गए थे। वे यहां पीड़ितों से मुआवजे के संबंध में बात कर रहे थे, तभी डॉक्टर के बोलने पर अखिलेश को गुस्सा आ गया। अखिलेश ने डॉ. डीएस मिश्रा को कमरे से भगा दिया।

अखिलेश ने कहा- "तुम सरकार का पक्ष नहीं ले सकते। तुम बहुत छोटे कर्मचारी हो। आरएसएस के हो सकते हो, भाजपा के हो सकते हो, लेकिन ये बात नहीं कह सकते कि वो क्या कह रहा है। इसके बाद अखिलेश ने कहा कि एक दम दूर हो जाइए। हट जाइए। बाहर भाग जाओ यहां से।"  

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना