Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Yogi Government Gave Notice To Ex Chief Ministers Of Uttar Pradesh For Left The Bungalow

SC के आदेश के बाद योगी सरकार ने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगला खाली करने का जारी किया नोटिस; 15 दिन का दिया समय

योगी सरकार ने आखिरकार लगभग 10 दिन बाद यूपी के पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने का नोटिस जारी कर दिया है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - May 17, 2018, 08:50 PM IST

  • SC के आदेश के बाद योगी सरकार ने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगला खाली करने का जारी किया नोटिस; 15 दिन का दिया समय
    +1और स्लाइड देखें
    राजनाथ सिंह, मुलायम सिंह और मायवती के पास 2-2 सरकारी बंगले हैं।

    लखनऊ. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद योगी सरकार ने आखिरकार लगभग 10 दिन बाद यूपी के पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने का नोटिस जारी कर दिया है। यूपी के राज्य संपत्ति विभाग अधिकारी योगेश शुक्ला ने बताया कि जो पूर्व मुख्यमंत्री सरकारी बंगले में रह रहे हैं उच्च न्यायलय के आदेशानुसार उन्हें गुरूवार को नोटिस जारी किया गया है। साथ ही सभी को बंगला खाली करने के लिए 15 दिन का समय दिया गया है।

    7 मई को आया था सुप्रीमकोर्ट का आदेश

    -बीते 7 मई को सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि उत्तर प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्रियों को अब सरकारी बंगले खाली करने होंगे। सुप्रीम कोर्ट ने इस संबंध में राज्य सरकार का पहले का आदेश रद्द कर दिया है। एनजीओ लोक प्रहरी ने 2004 में याचिका लगाकर इसे रद्द करने की मांग की थी। कोर्ट ने 2014 में इस पर सुनवाई पूरी कर ली थी, लेकिन अपना आदेश सुरक्षित रखा था। अब कोर्ट के आदेश के बाद करीब 6 पूर्व मुख्यमंत्रियों या उनके परिवारों को दो महीने में सरकारी बंगले खाली करने होंगे।

    इन पूर्व मुख्यमंत्रियों के पास हैं लखनऊ में सरकारी बंगले

    नाम
    पता
    कब से मिला ?
    मुलायम सिंह यादव5 विक्रमादित्य मार्गअप्रैल, 1991
    मायावती13 ए मॉल एवेन्यूजून, 1995
    राजनाथ सिंह4 कालीदास मार्गनवम्बर 2000
    नारायण दत्त तिवारी1 ए मॉल एवेन्यूनवम्बर 1989
    अखिलेश यादव4 विक्रमादित्य मार्गअक्टूबर 2016
    कल्याण सिंह2 मॉल एवेन्यूजुलाई 1992

    मुलायम ने बंगले के लिए की योगी से मुलाकात

    -सपा संरक्षक और यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। सीएम योगी से मुलाकात को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, मुलाकात के पीछे की वजह सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले के बारे में थी, जिसके तहत उच्चतम न्यायालय ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों से उनका सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया था।

    30 मिनट तक चली मुलाकात

    - मुख्यमंत्री आवास पर दोनों नेताओं के बीच मुलाकात करीब आधे घंटे तक चली। बताया जा रहा है कि मुलाकात में मुलायम ने सीएम योगी से 4 और 5 विक्रमादित्य मार्ग पर स्थित अपने और अखिलेश यादव के सरकारी बंगलों को नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी और नेता विधान परिषद अहमद हसन के नाम पर एलॉट करने की गुजारिश की है।

    दो साल पहले कोर्ट ने बंगले खाली करने को कहा था

    - सुप्रीम कोर्ट ने अगस्त 2016 में भी उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगले खाली करने का आदेश दिया था। इस पर अखिलेश सरकार ने पुराने कानून में संशोधन कर यूपी मिनिस्टर सैलरी अलॉटमेंट एंड फैसेलिटी अमेंडमेंट एक्ट 2016 विधानसभा से पास करा लिया था। इसमें सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को आजीवन सरकारी बंगला आवंटित करने का प्रावधान किया गया था।

    मप्र में भी चार पूर्व मुख्यमंत्रियों के पास हैं बंगले

    - मप्र में पूर्व मुख्यमंत्रियों को कैबिनेट मंत्री की रैंक मिली हुई है। इसके मुताबिक, इन्हें बंगले के साथ ही कैबिनेट मंत्री के समान वेतन और भत्ते, सुरक्षा, प्रोटोकाल सहित सारी सुविधाएं मुहैया करवाई जाती हैं।

    1) कैलाश जोशी, -बी 30, 74 बंगला
    2) दिग्विजय सिंह-बी 01, श्यामला हिल्स
    3) उमा भारती-बी 06, श्यामला हिल्स
    4) बाबूलाल गौर-बी 6, स्वामी दयानंद नगर, 74 बंगला

  • SC के आदेश के बाद योगी सरकार ने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगला खाली करने का जारी किया नोटिस; 15 दिन का दिया समय
    +1और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×