लोकसभा चुनाव 2019 : 73 साल के फक्कड़ बाबा 1977 से लड़ रहे चुनाव, 16 बार करा चुके जमानत जब्त, बोले- मेरे गुरु ने बताया था कब मिलेगी जीत

उत्तर प्रदेश न्यूज : मथुरा से सबसे पहले 17वीं बार भरा नामांकन, 2 साल में आधी हो गई प्रॉपर्टी

dainikbhaskar.com

Apr 14, 2019, 12:44 PM IST
Lok Sabha Chunav 2019 : Mathura UP News In Hindi : 73 Year Old Fakkad Baba Contesting Elections For 17th Time Even Losing Deposit 16 Times

मथुरा (उत्तर प्रदेश)। उत्तर प्रदेश की मथुरा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे 73 वर्षीय फक्कड़ बाबा रामायणी का ये 17वां चुनाव है। वे 16 बार अपनी जमानत जब्त करा चुके हैं। साल 1977 से अब तक 8 बार लोकसभा और इतनी ही बार विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं। हर बार की तरह इस बार भी बाबा ने नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के पहले ही दिन पर्चा दाखिल किया था। खास बात ये है कि बाबा की प्रॉपर्टी 2 साल में घटकर आधी से भी कम हो गई है।

फक्कड़ बाबा की प्रॉपर्टी पिछले 2 साल में घटी है। 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव में दिए हलफनामे में उन्होंने कुल प्रॉपर्टी 29,217 रुपए बताई है। जबकि ताजा हलफनामे में कुल प्रॉपर्टी 12,722 रुपए है, जिसमें से 10 हजार रु. कैश और 2,722 रुपए बैंक खाते में हैं। बाबा ने 2017 में जहां खुद को 5वीं और 7वीं क्लास पास बताया है, वहीं इस बार केवल साक्षर घोषित किया है।
फक्‍कड़ बाबा मथुरा के गोविंद नगर इलाके के गर्तेश्वर महादेव मंदिर के रैन बसेरा में रहते हैं। उनके पास न घर है, न जमीन। वे बताते हैं कि बात इमरजेंसी के वक्‍त की है। 1977 में लोकसभा चुनाव होना था। मेरे गुरु पुरी पीठाधीश्‍वर शंकराचार्य निश्‍चलानंद सरस्‍वती ने आदेश दिया, चुनाव लड़ जाओ। मैंने कहा, हार जाऊंगा। गुरु ने भविष्‍यवाणी की कि 19 चुनाव हारोगे, 20वें में लहर चलेगी और सफल हो जाओगे। बाबा कहते हैं तब से ही चुनाव लड़ना शुरू किया। पहले चुनाव में 8 हजार वोट मिले थे।
उन्होंने बताया कि वह 13 हजार से ज्यादा घरों में अखंड रामायण का पाठ कर चुके हैं। इसके अलावा अन्‍य सार्वजनिक समारोह में भी पाठ करते हैं। जहां भी अखंड रामायण करते हैं, वहां वोट बैंक बढ़ रहा है। हर चुनाव के लिए वे जमानत राशि और अपेक्षित समर्थक भी उन्हीं में से जुटाते हैं। बता दें, मथुरा सीट पर इस बार भाजपा से हेमा मालिनी, कांग्रेस से महेश पाठक और सपा-बसपा गठबंधन समर्थित राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्याशी कुंवर नरेंद्र सिंह सहित कुल 13 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

60 साल से रह रहे हैं मथुरा में

फक्‍कड़ बाबा का जन्‍म कानपुर के बिठूर में हुआ था। 11 वर्ष की उम्र में एक साधु के साथ वह मथुरा आ गए। परिवार वाले कई बार उन्‍हें बुलाने आए, लेकिन उन्‍होंने मथुरा नहीं छोड़ा। वह कहते हैं ब्रज कभी न छोड़ने का प्रण ले रखा है। जीते जी ब्रज को छोड़कर नहीं जाएंगे। उन्‍होंने परिवार को त्‍याग रखा है। बताते हैं कि तीन भाई थे, एक भाई अभी है और कानपुर में रहता है।

X
Lok Sabha Chunav 2019 : Mathura UP News In Hindi : 73 Year Old Fakkad Baba Contesting Elections For 17th Time Even Losing Deposit 16 Times
COMMENT

Recommended News

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना