--Advertisement--

आरोपी ने कबूला अपना गुनाह, बोला- रिश्ते में दूरी नहीं कर पाया बर्दाश्त

एसपी सिटी ने बताया कि आरोपी को छिजारसी से अरेस्ट किया है। उसने अपना गुनाह कबूल लिया है।

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 12:02 AM IST
महिला अपने पति और 4 साल के बच्चे के साथ किराए पर रहती थी। महिला अपने पति और 4 साल के बच्चे के साथ किराए पर रहती थी।

नोएडा. 28 दिसंबर को महिला की हत्या के मामले में पुलिस ने आरोपी विनोद को अरेस्ट कर लिया है। हत्या में इस्तेमाल किए गए चाकू को भी पुलिस ने बरामद किया। आरोपी विनोद के खिलाफ मृतका के पति ने केस दर्ज कराया था। इसके बाद से वो फरार चल रहा था। महिला बनाने लगी थी दूरी...

- पूछताछ में आरोपी विनोद ने बताया कि महिला के साथ उसके नाजायज रिश्ते थे। जब महिला उससे दूरी बनाने लगी, तब चाकू से गला रेतकर उसकी हत्या कर दी।

6 महीने पहले हुई थी मुलाकात

- आरोपी विनोद की मुलाकात 6 महीने पहले से महिला से हुई थी। उसके बाद दोनों के बीच नाजायज रिश्ते बन गए थे। हत्या से 7 दिन पहले से वो उससे दूरी बनाने लगी थी। ये बात उसे बर्दाश्त नहीं हुई। इसको लेकर महिला और आरोपी के बीच कई बार बहस हुई थी। मौका मिलने पर उसने धारदार हथियार से उसकी हत्या कर दी।

मानसिक रूप से कमजोर है आरोपी
- बताया जा रहा है कि पकड़ा गया आरोपी मानसिक तौर पर कमजोर है। पति और उसके परिजन इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं हैं। पुलिस को भेजी गई शिकायत में पति ने आरोपी विनोद का नाम दिया। उसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ा।


28 दिसंबर को हुई थी हत्या
- महिला अपने पति और चार साल के बच्चे के साथ छिजारसी में रहती थी। उसका पति सेक्टर-63 की एक कंपनी में काम करता है। घटना के दिन पति नौकरी पर गया था। सुबह11 बजे महिला दुकान पर सामान खरीदने गई थी। वहां से लौटने के बाद उसका बेटा खेलने के लिए बाहर गया। इस दौरान आरोपी विनोद महिला के घर में आया। पहले दोनों के बीच कहासुनी हुई। उसके बाद उसकी हत्या कर दी।

आरोपी ने कबूला गुनाह

- एसपी सिटी अरुण कुमार ने बताया- आरोपी विनोद को छिजारसी से अरेस्ट कर लिया गया है। महिला के पति की तरफ से शिकायत मिली थी, जिसमें आरोपी का नाम था। पुलिस ने अरेस्ट करने का बाद उससे पूछताछ की, तो उसने अपना गुनाह कबूल लिया।

पुलिस ने 9 दिन बाद आरोपी को छिजारसी से अरेस्ट किया है। पुलिस ने 9 दिन बाद आरोपी को छिजारसी से अरेस्ट किया है।
संदिग्ध हालात में उसकी डेडबॉडी 28 दिसंबर को मिली थी। संदिग्ध हालात में उसकी डेडबॉडी 28 दिसंबर को मिली थी।
इस मामले ने पुलिस ने पहले पति को पकड़ा था। इस मामले ने पुलिस ने पहले पति को पकड़ा था।
शिकायत पत्र में परिजनों ने आरोपी विनोद का नाम दिया। शिकायत पत्र में परिजनों ने आरोपी विनोद का नाम दिया।