Hindi News »Uttar Pradesh »Meerut» Chirag Knows Multiplication Tables Till 20 Crore

12 साल का ये स्टूडेंट फटाफट सुनाता है 20 करोड़ तक का पहाड़ा, आप भी देखें...

चिराग के माता-पिता बेहद करीब हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 18, 2018, 06:45 PM IST

    • छात्र के माता-पिता गरीब हैं।

      सहारनपुर. कहा जाता है कि प्रतिभा की कोई आयु सीमा नहीं है और यूपी के सहारनपुर जिले के चिराग ने ये साबित किया है। 12 वर्षीय चिराग को 20 करोड़ तक का पहाड़ा याद है और वह उसे फटाफट सुनाता है। चिराग की इस प्रतिभा से उसके माता-पिता और शिक्षक खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

      छोटे से गांव का रहने वाला है छात्र

      -सहारनपुर जिले के नकुड क्षेत्र के तीरपड़ी गांव में चिराग राठी को 20 करोड़ तक का पहाड़ा (टेबल) याद है। चिराग गुणा और भाग बिना कॉपी पैन के मिनटों में कर लेता है। चिराग जब कक्षा चार में था तब उसकी उम्र महज 8 वर्ष थी तब उसे 300 तक का टेबल याद था। एक गणित के अध्यापक राजेंद्र सिंह ने इसकी प्रतिभा को पहचाना और रोज इसे ज्यादा पहाड़ा याद करने को देते आज इस छात्र को 20 करोड़ तक पहाड़ा याद है।
      -चिराग एक गरीब परिवार से आता है इसलिए चिराग के परिजन इसकी प्रतिभा को निखारने के लिए किसी बड़े स्कूल मे भेजने मे असमर्थ हैं। फिलहाल चिराग गांव के ही जिला सिंह पब्लिक स्कूल मे पढ़ता है।


      वैज्ञानिक बनना चाहता है चिराग

      -चिराग विभिन्न प्रतियोगिताओं में पदक और प्रमाण जीता चुका है। 8वीं कक्षा में पढ़ाई करने वाला चिराग वैज्ञानिक बनना चाहता है। चिराग ने बताया, मैं वैज्ञानिक बनना चाहता हूं और अपना देश का नाम करना चाहता हूं।
      -चिराग ने बताया कि वह चाहता है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उसके गांव आएं।


      गरीब हैं माता-पिता

      -अद्भुत प्रतिभा का धनी चिराग सहारनपुर के एक बहुत ही गरीब परिवार से हैं।
      -चिराग के पिता नरेंद्र सिंह ने बताया कि वे लोग बहुत ही गरीब परिवार से हैं। उन लोगों के लिए दो वक्त का खाना जुटाना भी मुश्किल होता है। उनका बेटा चिराग वैज्ञानिक बनना चाहता है। अपने बेटे का सपना पूरा करने के लिए वह पूरा प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि वह बड़ा वैज्ञानिक बनकर देश का नाम पूरी दुनिया में रोशन करे।

      -चिराग की मां बबिता का कहना है कि, हम चाहते हैं कि सरकार हमारी मदद करे। हम बहुत गरीब लोग हैं। हम छोटे किसान है अगर सरकार मदद करती है अच्छा होता बच्चा पढ़कर आगे बढ़ता।

      क्या कहना है स्कूल टीचर का

      -चिराग के शिक्षक संदीप का कहना है, चिराग और बच्चों से थोड़ा अलग है। हर काम को वो तुरंत कर लेता है। गुणा, भाग वो मिनटों में हल कर लेता है। वो उसे गॉड से गिफ्ट मिला है। उन्होंने कहा कि बच्चे के माता-पिता बेहद गरीब हैं। इसी कारण स्कूल प्रबंधन ने तय किया है कि जब तक छात्र इस स्कूल में पढ़ाई करेगा उसकी फीस माफ कर दी गई है। स्कूल प्रबंधन छात्र के आगे बढ़ने पर पूरी मदद करेगा।

    • 12 साल का ये स्टूडेंट फटाफट सुनाता है 20 करोड़ तक का पहाड़ा, आप भी देखें...
      +3और स्लाइड देखें
      वैज्ञानिक बनकर देश का नाम रोशन करना चाहता है चिराग ।
    • 12 साल का ये स्टूडेंट फटाफट सुनाता है 20 करोड़ तक का पहाड़ा, आप भी देखें...
      +3और स्लाइड देखें
      चिराग की मां का कहना है कि अगर सरकारी मदद मिल जाए तो छात्र आगे बढ़ सकता है।
    • 12 साल का ये स्टूडेंट फटाफट सुनाता है 20 करोड़ तक का पहाड़ा, आप भी देखें...
      +3और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Meerut News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Chirag Knows Multiplication Tables Till 20 Crore
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From Meerut

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×