--Advertisement--

मैंने उसके लिए मां बाप को छोड़ा...वो देना चाहता था धोखा, इसलिए किया ऐसा

मेरठ. यहां शुक्रवार को पुलिस ने एक कपल की शादी कराई।

Danik Bhaskar | Dec 08, 2017, 03:28 PM IST
लड़की ने बताया, यूनिवर्सिटी के गेट पर मेरी मुलाकात बुलंदशहर जिले का रहने वाला गौरव से हुई थी। वह अपने दोस्तों के साथ यूनिवर्सिटी कैंपस आया था। लड़की ने बताया, यूनिवर्सिटी के गेट पर मेरी मुलाकात बुलंदशहर जिले का रहने वाला गौरव से हुई थी। वह अपने दोस्तों के साथ यूनिवर्सिटी कैंपस आया था।

मेरठ. यहां शुक्रवार को पुलिस ने एक कपल की शादी कराई। इस दौरान दोनों पक्षों के परिजन भी मौजूद रहे। पुलिस की मौजूदगी में कपल ने जयमाल डाला और 7 फेरे लिए। पुलिस ने बताया, कपल को अपनी शादी कोर्ट में रजिस्टर्ड कराने के लिए कहा गया है।

 

यूनिवर्सिटी के गेट पर हुई थी मुलाकात
- मेरठ के भावनपुर की रहने वाली राखी ने बताया, ''3 साल पहले यूनिवर्सिटी के गेट पर मेरी मुलाकात बुलंदशहर जिले का रहने वाला गौरव से हुई थी। वह अपने दोस्तों के साथ यूनिवर्सिटी कैंपस आया था। पहले हमारे बीच दोस्ती हुई, फिर दोस्ती प्यार में बदल गई।''
- ''सब कुछ ठीक चल रहा था। इस बीच हमारे घरवालों को इस बात का पता चल गया। उन्होंने हमारे रिश्ते का विरोध किया और शादी कराने से भी मना कर दिया। इस बीच गौरव की कस्टम विभाग में नौकरी लग गई।''

- ''बात इतनी बढ़ चुकी थी कि हम दोनों ने घर छोड़ दिया और मेडिकल थाना क्षेत्र में किराए पर रूम लेकर लिव इन में रहने लगे।''
- ''कुछ समय बाद जब मैंने उससे शादी की बात कही तो वह मुझसे दूरियां बढ़ाने लगा। मुझे शक हुआ कि वो मुझे छोड़ देगा। इसलिए मैं पुलिस थाने पहुंच गई और पूरी बात बताई।''
- ''इसके बाद पुलिस ने थाने में ही गौरव को भी बुला लिया, वहां भी वो शादी की बात को टालने की कोश‍िश कर रहा था, लेकिन मैं जिद पर अड़ गई।''
- ''उसकी नौकरी लग गई, तो वह उससे पीछा छुड़ाना चाहता था, जबकि मैंने उस वक्त उसकी मदद की जब उसके बाद पैसे नहीं थे।''

 

 

पुजारी ने करायी शादी की रस्म
- थाना प्रभारी मेडिकल ब्रजेश कुमार ने बताया, लड़की अपने फ्यूचर को लेकर असुरक्ष‍ित महसूस कर रही थी। इसलिए दोनों पक्षों से बात की गई। उनके परिजनों को बुलवाया गया और थाने के पास मेडिकल परिसर में स्थित मंदिर में उनकी शादी करा दी।
- शादी के बाद दोनों पक्ष अपने घर चले गए। पहले लड़का पक्ष शादी के लिए तैयार नहीं हो रहा था, लेकिन लड़की की जिद के आगे उसे झुकना पड़ा।
- दोनों ने अपने शपथ पत्र में लिखकर दिया है। दोनों को शादी कोर्ट में रजिस्टर्ड कराने के लिए भी कहा गया है।

थाना प्रभारी मेडिकल ब्रजेश कुमार ने बताया, लड़की अपने फ्यूचर को लेकर असुरक्ष‍ित महसूस कर रही थी। इसलिए दोनों पक्षों से बात की गई और मंदिर में दोनों की शादी करा दी। थाना प्रभारी मेडिकल ब्रजेश कुमार ने बताया, लड़की अपने फ्यूचर को लेकर असुरक्ष‍ित महसूस कर रही थी। इसलिए दोनों पक्षों से बात की गई और मंदिर में दोनों की शादी करा दी।