--Advertisement--

घर में जली मिली थी 2 बहनों की लाश, आरोपी ने कहा-खुद फोन कर बुलाया था

बुलंदशहर. यहां के बीबी नगर थाना क्षेत्र में हुए दोहरे हत्याकांड का खुलासा पुलिस ने कर दिया।

Dainik Bhaskar

Feb 05, 2018, 03:21 PM IST
पुलिस के डर से आरोपी ने दोनों ब पुलिस के डर से आरोपी ने दोनों ब

बुलंदशहर. यहां के बीबी नगर थाना क्षेत्र में हुए दोहरे हत्याकांड का खुलासा पुलिस ने रविवार को किया। हत्या किसी और नहीं बल्क‍ि लड़की के प्रेमी ने की थी। पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर जेल भेज दिया है। बता दें, एक फरवरी को घर में 2 बहनों की जली लाश मिली थी।

क्या है पूरा मामला

- मामला बुलंदशहर के बीबी नगर थानाक्षेत्र के बांहपुर गांव का है। गजेंद्र के बेटे राहुल की शादी 18 फरवरी को होनी है। शादी में शामिल होने के लिए राहुल के मामा की बेटी शिवानी (22) हापुड़ के दरियापुर गांव से बांहपुर आई थी। घर में शादी की तैयारियां चल रही थीं।

- 1 फरवरी को पूरा परिवार शॉपिंग के लिए शहर गया था। घर पर राहुल की बहन शीलू (23) और मामा की बेटी शिवानी थीं।

- देर रात परिजन शॉपिंग करके लौटे तो घर के अंदर सन्नाटा था। अजीब सी महक आ रही थी। घरवाले शीलू के कमरे में गए तो वहां उसकी जली हुई लाश पड़ी थी। शिवानी को आवाज लगाते हुए परिजन उसे ढूंढने लगे तो दूसरे कमरे में उसकी भी जली लाश पड़ी थी।

आरोपी ने ऐसे दिया डबल मर्डर को अंजाम

- आरोपी अंकित ने बताया, ''उस रात शीलू ने खुद ही कॉल करके मुझे घर बुलाया था। हमने कई घंटों तक बात की, इस बीच अचानक शादी को लेकर बातचीत होने लगी।''

- ''वो बोली कि हमारी शादी नहीं हो पाएगी। मैंने उसे समझाने की कोश‍िश की, लेकिन वो अपनी बात पर कायम थी। इसी को लेकर हमारे बीच लड़ाई हुई और शीलू उठकर दूसरे कमरे में चली गई।''

- ''उसके इनकार से मैंने अपना आपा खो दिया। मैं बाहर गया और बाइक के बैग में रखा था पुराना क्लच वायर लाकर शीलू की गला दबाकर हत्या कर दी।''

- ''दूसरे कमरे में उसके मामा की बेटी श‍िवानी टीवी देख रही थी। मुझे शक था कि वो किसी को मेरे बारे में न बता दे, इसलिए उसकी भी गला दबाकर हत्या कर दी।''

- ''दोनों की हत्या के बाद मुझे डर था कि कहीं पुलिस मुझे न पकड़ ले। सबूत मिटाने के लिए मैंने खाली पड़ी कोल्ड ड्र‍िंक की बोतल में अपनी बाइक से पेट्रोल निकाला और दोनों के शवों पर डालकर आग लगा दी।''

पुलिस का क्या है कहना...
- SSP मुनिराज ने बताया, जुर्म कितनी भी सफाई से किया जाए या आरोपी कितना भी होशियार हो, वो कोई न कोई गलती कर ही जाता है। अंकित से भी वही गलती हुई, घटना स्थल पर उसका आधार कार्ड गिर गया था।

- इसके अलावा शीलू की कॉल ड‍िटेल निकलवाया गया, जिससे शख्स यकीन में बदल गया। अंकित को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की गई, तो उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया।

X
पुलिस के डर से आरोपी ने दोनों बपुलिस के डर से आरोपी ने दोनों ब
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..