--Advertisement--

4 घंटे के इलाज के लिए फोर्टिस हॉस्पिटल ने दिया 1.03 लाख का बिल, शिकायत दर्ज

4 घंटे के इलाज के बाद बच्ची की मौत हो गई।

Dainik Bhaskar

Dec 14, 2017, 10:19 AM IST
मैक्स हॉस्पिटल ने जिंदा बच्ची मैक्स हॉस्पिटल ने जिंदा बच्ची

नोएडा. 4 घंटे के इलाज के लिए 1.03 लाख रुपए का बिल नोएडा के सेक्टर -62 में बने फोर्टिस हॉस्पिटल ने गाजियाबाद के एक परिवार को दे दिया। वहीं, इलाज के दौरान उस बच्ची की मौत हो गई। पीड़ित पिता ने थाना सेक्टर-58 में शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत के आधार पर नोएडा के डीएम मामले की जांच करा रहे हैं। थाना सेक्टर- 58 के एसएचओ अनिल प्रताप सिंह ने बताया कि सीएमओ की जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। ये है मामला...


- गाजियाबाद के गुलधर गांव की रहने वाली एक लड़की श्वेता को 20 नवंबर 2017 की रात 1 बजे सेक्टर- 62 के फोर्टिस अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया था। पिता जोगिंदर सिंह ने बताया, "भर्ती होने के 4 घंटे बाद 21 नवंबर को 5 बजे श्वेता को डाक्टरों ने डेड बता दिया। 4 घंटे के 1.03 लाख रुपए का पेमेंट करने डेडबॉडी ले जाने को कहा गया। इसके बाद बच्ची के पिता ने किसी तरीके से पेमेंट कर बच्ची की डेडबॉडी अपने साथ ले गए।

- डेडबॉडी का अंतिम संस्कार करने के बाद जब बच्ची के पिता जोगिंदर सिंह ने दूसरे डॉक्टर से संपर्क किया, तो उन लोगों ने इस बिल पर आपत्ति जताई। इसके बाद बच्ची के पिता जोगिंदर सिंह ने नोएडा के थाना सेक्टर- 58 में एफआईआर दर्ज कराई है।

- बता दें कि 18 नवंबर को श्वेता बेहोश हो गई थी। उस वक्त गाजियाबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से छुट्टी कर वह घर आ गई थी। 20 नवंबर की रात को फिर से बेहोश होने पर फोर्टिस हॉस्पिटल में लाया गया था।

बनाई गई जांच कमेटी

- CMO अनुराग भार्गव ने कहा, "फोर्टिस हॉस्पिटल के बारे में ज्यादा बिल वसूलने की शिकायत उनके पास मिली थी। इस पर कार्रवाई करते हुए तीन सदस्यीय जांच कमेटी बना दी गई है। एक महीने के भीतर ये अपनी जांच रिपोर्ट देगी। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मैक्स हॉस्पिटल में सामने आया था मामला

- बता दें कि 30 नवंबर को महिला ने जुड़वां बच्चों को जन्म दिया था। बाद में हॉस्पिटल ने दोनों को डेड करार दिया। अंतिम संस्कार से पहले बच्ची में हलचल देखी गई थी। इलाज के दौरान दूसरे हॉस्पिटल में बुधवार को उसकी भी मौत हो गई। जिंदा बच्ची को डेड बताकर फैमिली के सुपुर्द करने के मामले में केजरीवाल सरकार ने मैक्स हॉस्पिटल का लाइसेंस रद्द कर दिया था।

X
मैक्स हॉस्पिटल ने जिंदा बच्ची मैक्स हॉस्पिटल ने जिंदा बच्ची
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..