मेरठ

--Advertisement--

खाप पंचायत ने कहा- बेटियां को सिखाएंगे संस्कार,सगोत्रीय विवाह बर्दाश्त नहीं

84 खाप चौधरियों ने शामली जनपद के बालियान खाप चौधरी के बेटियों को लेकर विवादित बयान का खुलकर विरोध किया।

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 12:04 PM IST
खाप के चौधरी सुरेन्द्र सिंह ने कहा- खाप पंचायतें भ्रूण हत्या के विरोध में है। हम बेटियां पैदा भी करेंगे और संस्कार भी देंगे। खाप के चौधरी सुरेन्द्र सिंह ने कहा- खाप पंचायतें भ्रूण हत्या के विरोध में है। हम बेटियां पैदा भी करेंगे और संस्कार भी देंगे।

बागपत(यूपी). यहां के 84 खाप चौधरियों ने शामली जनपद के बालियान खाप चौधरी के बेटियों को लेकर विवादित बयान का खुलकर विरोध किया है। रविवार को 84 खाप के चौधरी सुरेन्द्र सिंह का कहना है, ''हमारी ये बात समझ से बाहर है कि बेटियों को लेकर इस तरीके की बयानबाजी की जा रही है। खाप पंचायतें भ्रूण हत्या के विरोध में है और इनके खिलाफ सख्त कदम भी उठाती हैं। हम बेटियां पैदा भी करेंगे और संस्कार भी देंगे। हालांकि खाप चौधरी सगोत्रीय विवाह (इंटर कास्ट मैरिज ) को किसी भी कीमत पर मान्यता देने के पक्ष में नहीं हैं। सगोत्रीय विवाह करने वालों को गांव में रहने ही नहीं देंगे।'' क्या था बालियान खाप के चौधरी का बयान...


- 8 फरवरी को शामली क्षेत्र के गांव भज्जू में एक विशेष कार्यक्रम में शामिल होने बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत पहुंचे थे।
- यहां उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर ऐतराज जताया। साथ ही कहा- न तो बेटियां पैदा करेंगे और न बेटियों का जन्म होने देंगे। माननीय सुप्रीम कोर्ट हमारी परंपराओं में दखल न दे। बेटियां अपनी मर्जी से शादी नहीं करेंगी। ऐसा होगा तो हम बेटियों के जन्म पर अंकुश लगाएंगे। लड़की और लड़कों के बीच का जो अनुपात है उसमें अंतर के लिए सुप्रीम कोर्ट की जिम्मेदारी होगी।''


क्या था SC का फैसला

- खाप पंचायत के खिलाफ सख्त रुख अपनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि दो रजामंद वयस्कों को अपनी शादी से मर्जी का अधिकार है। किसी व्यस्क को अंतर्जातीय विवाह करने से खाप पंचायत रोक नहीं सकता।

- सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर दो बालिग शादी करने का फैसला करते हैं, तो उसमें कोई भी दखल नहीं दे सकता। साथ ही कोर्ट ने केंद्र सरकार और याचिकाकर्ताओं से ऐसे उपाय मांगे, जिससे इन विवाहित दंपतियों को सुरक्षा प्रदान की जा सके।
- कोर्ट ने खाप की पैरवी करते वकील से बेहद सख्त लफ्ज में कहा कि कोई शादी वैध है या अवैध, यह फैसला बस अदालत ही कर सकती है।आप इससे दूर रहें। अब इस मामले की सुनवाई 16 फरवरी को होगी।

बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत ने कहा था- न तो बेटियां पैदा करेंगे और न बेटियों का जन्म होने देंगे। बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत ने कहा था- न तो बेटियां पैदा करेंगे और न बेटियों का जन्म होने देंगे।
X
खाप के चौधरी सुरेन्द्र सिंह ने कहा- खाप पंचायतें भ्रूण हत्या के विरोध में है। हम बेटियां पैदा भी करेंगे और संस्कार भी देंगे।खाप के चौधरी सुरेन्द्र सिंह ने कहा- खाप पंचायतें भ्रूण हत्या के विरोध में है। हम बेटियां पैदा भी करेंगे और संस्कार भी देंगे।
बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत ने कहा था- न तो बेटियां पैदा करेंगे और न बेटियों का जन्म होने देंगे।बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत ने कहा था- न तो बेटियां पैदा करेंगे और न बेटियों का जन्म होने देंगे।
Click to listen..