--Advertisement--

इलाज के ल‍िए मेरठ पहुुंचा 'नर पिशाच' कोली, बोला- मेरे पास बेगुनाही के सबूत, लेकिन नहीं मिल रही मदद

मेरठ. निठारी कांड के 'नर पिशाच' सुरेन्द्र कोली को गाज‍ियाबाद पुलिस शनिवार को एक बार फिर से मेडिकल अस्पताल लेकर पहुंची।

Dainik Bhaskar

Dec 30, 2017, 09:38 PM IST
सुरेंद्र कोली के हाथ में दर्द है। सुरेंद्र कोली के हाथ में दर्द है।

मेरठ. निठारी कांड के 'नर पिशाच' सुरेन्द्र कोली को गाज‍ियाबाद पुलिस शनिवार को एक बार फिर से मेडिकल अस्पताल लेकर पहुंची। इस दौरान कोली ने कहा, ''मुझे इलाज के नाम पर इधर से उधर भेजा जा रहा है। मेरे पास अपनी बेगुनाही के तमाम सबूत हैं, लेकिन मेरी कोई मदद नहीं कर रहा है।'' करीब 3 महीने पहले एक हाथ पैरालाइज हो गया था...


- सुरेंद्र कोली को गाजियाबाद पुलिस कड़ी सुरक्षा के बीच लेकर मेरठ के एलएलआरएम मेडिकल अस्पताल लेकर पहुंची।
- उसने कहा, ''मेरे एक हाथ में दर्द की शिकायत है। करीब 3 महीने पहले पैरालाइज का असर हो गया था। काफी प्रयास के बाद भी जेल प्रशासन इलाज के लिए तैयार नहीं हुआ। इलाज के लिए उसे कोर्ट की मदद लेनी पड़ी।''
- बता दें, इससे पहले सुरेंद्र कोली को मेरठ के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में एमआरआई के लिए लाया गया था। तब उसने अपनी रीढ़ की हड्डी में दर्द की शिकायत की थी। एमआरआई कराने के बाद कोली को लेकर गाजियाबाद पुलिस वापस चली गई थी।
- मेडिकल अस्पताल के सीएमएस डॉ. अजित चौधरी ने कहा, सुरेंद्र कोली के मेडिकल टेस्ट किए गए हैं। उसे न्यूरो फिजि‍शियन को दिखाने की जरूरत है। फिलहाल मेडिकल अस्पताल में न्यूरो सर्जन न होने की वजह से उसे हायर सेंटर के लिए रेफर किया गया है।

कोली बोला- मेरे पास बेगुनाही के सबूत
- मीडिया से बातचीत करते हुए कोली ने कहा, उसके पास बेगुनाही के सबूत हैं, लेकिन उसकी कहीं सुनवाई नहीं हो रही है।
- उसने आरटीआई और अन्य माध्यमों से ये सबूत इकट्ठा किए, लेकिन उसकी कोई मदद नहीं कर रहा है। वह अपना केस स्वयं लड़ रहा है। उसने अपनी बेगुनाही के सबूत इकट्ठा किए, लेकिन मदद कोई नहीं कर रहा है।

3 महीने पहले एक हाथ हो गया था पैरालाइज्ड। 3 महीने पहले एक हाथ हो गया था पैरालाइज्ड।
X
सुरेंद्र कोली के हाथ में दर्द है।सुरेंद्र कोली के हाथ में दर्द है।
3 महीने पहले एक हाथ हो गया था पैरालाइज्ड।3 महीने पहले एक हाथ हो गया था पैरालाइज्ड।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..