--Advertisement--

2013 मुज्जफरनगर दंगा: मंत्री-सांसद और विधायक समेत 15 लोगों के खिलाफ गैरजमानती वारंट

बीजेपी सांसद संजीव बालियान ने कहा- हम इस मामले में अपना जवाब वकील से भिजवाएंगे।

Dainik Bhaskar

Dec 17, 2017, 10:00 AM IST
31 अगस्त 2013 को मुजफ्फरनगर के गांव नगला मंदौड़ में आयोजित पंचायत में भड़काऊ भाषण देने के बाद धारा 144 के उल्लंघन समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था। 31 अगस्त 2013 को मुजफ्फरनगर के गांव नगला मंदौड़ में आयोजित पंचायत में भड़काऊ भाषण देने के बाद धारा 144 के उल्लंघन समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था।

मुज्जफरनगर.2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगे से जुड़े दो अलग-अलग मामलों में पेश न होने पर कोर्ट ने मंत्री, सांसद और विधायक समेत 15 लोगों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है। इस मामले में अगली सुनवाई 19 जनवरी को होगी। बता दें कि 31 अगस्त 2013 को मुजफ्फरनगर के गांव नगला मंदौड़ में आयोजित पंचायत में भड़काऊ भाषण देने के बाद धारा 144 के उल्लंघन समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था। इस पंचायत के बाद दंगा भड़क गया था। इन लोगों पर दर्ज हुआ था मुकदमा

- प्रदेश के गन्ना राज्यमंत्री सुरेश राणा, बीजेपी सांसद संजीव बालियान, बिजनौर से बीजेपी सांसद, कुंवर भारतेन्द्र सिंह, बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक, साध्वी प्राची, पूर्व ब्लाक प्रमुख वीरेन्द्र सिंह, श्यामपाल चेयरमैन सहित 14 लोगों के खिलाफ केस किया गया था।

-7 सितंबर 2013 को नगला मंदौड़ में फिर पंचायत हुई थी। जिसमें अलग-अलग आईपीसी सेक्शन में गन्ना राज्यमंत्री सुरेश राणा, सांसद कुंवर भारतेन्द्र सिंह, सरधना से भाजपा विधायक संगीत सोम तथा साध्वी प्राची सहित 11 लोगों के खिलाफ केस किया गया था। मुजफ्फरनगर दंगे से जुड़े दो अलग-अलग मामलों में पेश न होने पर कोर्ट ने मंत्री, सांसद और विधायक समेत 15 लोगों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। अगली सुनवाई 19 जनवरी को होगी।
बीजेपी सांसद ने दिया ये जवाब

-बीजेपी सांसद संजीव बालियान ने कहा, "15 दिसंबर से लोकसभा सत्र की शुरुआत हुई थी, इसलिए मैं दिल्ली में था। 14 तारीख से यूपी विधानसभा का सत्र भी चल रहा था। कोर्ट ने वारंट जारी किया है, तो वकील के जरिए अपना जवाब भिजवाएंगे।
-बीजेपी सांसद संजीव बालियान ने कहा, "संसद सत्र में व्यस्त होने के कारण उस दिन हम हाजिर नहीं हो पाएं। जिस केस में मेरे खिलाफ मुकदमा चल रहा है, उस दिन वहां कोई भाषण नहीं हुआ। पिछली अखिलेश सरकार ने उनके ऊपर फर्जी मुकदमें लगाए थे।"



प्रदेश के गन्ना राज्यमंत्री सुरेश राणा, बीजेपी सांसद संजीव बालियान, बिजनौर से बीजेपी सांसद, कुंवर भारतेन्द्र सिंह, बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक, साध्वी प्राची, पूर्व ब्लाक प्रमुख वीरेन्द्र सिंह, श्यामपाल चेयरमैन सहित 14 लोगों के खिलाफ केस किया गया था। प्रदेश के गन्ना राज्यमंत्री सुरेश राणा, बीजेपी सांसद संजीव बालियान, बिजनौर से बीजेपी सांसद, कुंवर भारतेन्द्र सिंह, बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक, साध्वी प्राची, पूर्व ब्लाक प्रमुख वीरेन्द्र सिंह, श्यामपाल चेयरमैन सहित 14 लोगों के खिलाफ केस किया गया था।
X
31 अगस्त 2013 को मुजफ्फरनगर के गांव नगला मंदौड़ में आयोजित पंचायत में भड़काऊ भाषण देने के बाद धारा 144 के उल्लंघन समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था।31 अगस्त 2013 को मुजफ्फरनगर के गांव नगला मंदौड़ में आयोजित पंचायत में भड़काऊ भाषण देने के बाद धारा 144 के उल्लंघन समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था।
प्रदेश के गन्ना राज्यमंत्री सुरेश राणा, बीजेपी सांसद संजीव बालियान, बिजनौर से बीजेपी सांसद, कुंवर भारतेन्द्र सिंह, बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक, साध्वी प्राची, पूर्व ब्लाक प्रमुख वीरेन्द्र सिंह, श्यामपाल चेयरमैन सहित 14 लोगों के खिलाफ केस किया गया था।प्रदेश के गन्ना राज्यमंत्री सुरेश राणा, बीजेपी सांसद संजीव बालियान, बिजनौर से बीजेपी सांसद, कुंवर भारतेन्द्र सिंह, बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक, साध्वी प्राची, पूर्व ब्लाक प्रमुख वीरेन्द्र सिंह, श्यामपाल चेयरमैन सहित 14 लोगों के खिलाफ केस किया गया था।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..