--Advertisement--

इस वजह से मां को जंजीर से बांधकर रखते हैं बेटा-बहू, बोले- करना पड़ता है

मेरठ में एक बेटा-बहू अपनी मां को जंजीर में ताला मारकर रखते है।

Dainik Bhaskar

Dec 11, 2017, 11:15 AM IST
महिला को इस बात का जरा सा भी दुख नहीं है। महिला को इस बात का जरा सा भी दुख नहीं है।

मेरठ. यहां 85 साल की बुजुर्ग मां के पैरों में जंजीर बांधकर ताला लगा दिया जाता है। वह दिनभर जंजीर में बंद ऑटो की सीट पर अपना दिन गुजारती है। गौर करने वाली बात ये है कि मां को इस बात का न दुख है और न ही उन्होंने कभी विरोध जताया।

तो इस वजह से जंजीर से बांधकर रखी जाती है बुजुर्ग महिला...

- मेरठ के लोहिया नगर की कांशीराम कालोनी में बुजुर्ग महिला को जंजीर से बांधकर ताला लगाने का मामला सामने आया है। यहां रहने वाली आबिदा ने बताया, ''मेरी सास अकबरी बेगम मानसिक रूप से बीमार हैं, जिस कारण उन्हें कुछ याद नहीं रहता।''
- ''वह बिना बताए घर से चली जाती हैं। कालोनी में इधर-उधर जाने से वह कई बार चक्कर खाकर गिर चुकी हैं। कालोनी में लोग उन्हें पागल समझकर उनपर पत्थर मारते हैं।''
- ''इसलिए 3 महीने से सास के पैर में जंजीर बांध कर रखा है। सिर्फ दिन में ऐसा करते हैं, रात में उन्हें घर के अंदर कर लिया जाता है। उनका इलाज भी चल रहा है।''

- ''दिन में उन्हें चाहे कितनी बार खाना दे दो, वह हमेशा सबसे कहती हैं कि खाना नहीं खाया। उनकी भूलने की बीमारी की वजह से ही उन्हें इस तरह से रखने पर हम मजबूर हो गए।''
- पड़ोसियों ने बताया, ''महिला के पति सरकारी नौकरी में थे, उनकी मृत्यु के बाद पेंशन के पैसे उसे ही मिलते हैं, जो उसका बेटा खर्च करता है। बेटा कचहरी में एक वकील के यहां मुंशी है।''

- मामले की सूचना मिलने पर खरखौदा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और आबिदा से पूछताछ की। बाद में पुलिस की मौजूदगी में आबिदा की सास को पुलिस ने जंजीर से मुक्त कराकर घर के अंदर कराया।
- एसपी सिटी मानसिंह चौहान ने कहा, ''अभी यही पता चला है कि महिला को भूलने की बीमारी के चलते परिजनों से उसे बांध कर रखा। किसी महिला के साथ ऐसा व्यवहार ठीक नहीं है। पुलिस अपने स्तर से जो हो सकता है, कार्रवाई कर रही है।''

दिनभर महिलाा जंजीर से बंधी रहती है, शाम को बहू उसे घर के अंदर ले जाते हैं। दिनभर महिलाा जंजीर से बंधी रहती है, शाम को बहू उसे घर के अंदर ले जाते हैं।
महिला की बहू ने बताया, सास को भूलने की बीमारी है, इसलिए ताला मारकर रखते हैं। महिला की बहू ने बताया, सास को भूलने की बीमारी है, इसलिए ताला मारकर रखते हैं।
बहू ने बताया कि  सास को 3 महीने से जंजीर में बांधकर रख रहे हैं। बहू ने बताया कि सास को 3 महीने से जंजीर में बांधकर रख रहे हैं।
X
महिला को इस बात का जरा सा भी दुख नहीं है।महिला को इस बात का जरा सा भी दुख नहीं है।
दिनभर महिलाा जंजीर से बंधी रहती है, शाम को बहू उसे घर के अंदर ले जाते हैं।दिनभर महिलाा जंजीर से बंधी रहती है, शाम को बहू उसे घर के अंदर ले जाते हैं।
महिला की बहू ने बताया, सास को भूलने की बीमारी है, इसलिए ताला मारकर रखते हैं।महिला की बहू ने बताया, सास को भूलने की बीमारी है, इसलिए ताला मारकर रखते हैं।
बहू ने बताया कि  सास को 3 महीने से जंजीर में बांधकर रख रहे हैं।बहू ने बताया कि सास को 3 महीने से जंजीर में बांधकर रख रहे हैं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..