--Advertisement--

नोएडा: पुल‍िस-बदमाशों में मुठभेंड़, फायर‍िंग में दो बदमाश घायल

बाइक सवार दो बदमाशों के पैर में गोली लगी है। मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है।

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2018, 10:55 PM IST
two miscreants injured in police encounter in noida

नोएडा. फेज-2 क्षेत्र में शनिवार देर शाम पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। इनमें बाइक सवार दो बदमाशों के पैर में गोली लगी है। मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों बदमाश खतरे से बाहर हैं। पकड़े गए बदमाशों से पुल‍िस पूछताछ में लगी है। आगे पढ़‍िए पूरा मामला...

-गिरफ्तार बदमाशों ने 4 दिन पहले फेज-टू के एक उद्यमी की कार पर फायरिंग की थी और अगले दिन 2 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी थी।

-शनिवार देर शाम को फेज-टू कोतवाली के प्रभारी शावेज खान सेक्टर-80 के पास चेकिंग कर रहे थे। तभी बाइक सवार 3 युवकों को रूकने का इशारा किया। इस पर बाइक सवार बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी।

-इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए कई राउंड फायर किए। इसमें दो बदमाशों (गढ़ी चौखंडी निवासी आजाद और विकास) को गोली लग गई, जबक‍ि तीसरा बदमाश संजू बाल-बाल बच गया। फ‍िलहाल संजू से पुलिस पूछताछ कर रही है।

बदमाश ने फोन कर मांगे थे रंगदारी

-बताया जाता है क‍ि पकड़े गए बदमाशों ने फेज-टू के एक फैक्ट्री मालिक उमेश ब‍िग की कार पर सोमवार रात फायरिंग कर दी थी। उस वक्त कार में उनकी बेटी भी थी।

-मंगलवार को एक बदमाश ने उद्यमी को फोन कर कहा था कि उसने ही रात में उसकी कार पर फायरिंग की है। उसने उद्यमी की बेटी का भी नाम बताया था। फिर बदमाशों ने उनसे दो करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी थी। इसके बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था।

बागपत के रहने वाले हैं तीनों आरोपी

-पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार तीनों आरोपी आजाद, विकास और संजू तीनों बागपत के रहने वाले हैं। आजाद और विकास दोस्त हैं और संजू विकास का जीजा है। दोनों दोस्त संजू के गढ़ी चौखंडी स्थित घर में आते रहते हैं। इन तीनों ने ही उमेश बिग से रंगदारी मांगी थी।


कारोबारी का ड्राइवर है मास्टरमाइंड

-दो करोड़ की रंगदारी मांगने के मामले में कारोबारी उमेश बिग का ड्राइवर अरविंद मास्टरमाइंड है। अभी वह फरार चल रहा है। पुलिस की दो टीमें उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

-गिरफ्तार बदमाश आजाद की अरविंद से दोस्ती है। अरविंद ने ही मुखबिरी कर उससे रंगदारी मांगने की प्लानिंग की। घटना से पहले आजाद, विकास संजू ने मिलकर मोबाइल लूटा था। उस मोबाइल से ही रंगदारी मांगी गई थी।

-घटना की रात अरविंद कारोबारी की मुखबिरी कर रहा था। संजू फैक्ट्री की गेट पर खड़ा था। आजाद और विकास फैक्ट्री से कुछ दूर आगे था। जब कारोबारी अपनी बेटी और ड्राइवर के साथ फैक्ट्री से निकला तो उसने संजू को बताया। संजू ने आजाद और विकास से संपर्क किया और फिर उनकी कार पर फायरिंग हुई थी।

क्या कहते हैं पुल‍िस अध‍िकारी

-एसपी स‍िटी अरुण कुमार स‍िंह ने बताया, पुलिस मुठभेड़ में दो करोड़ की रंगदारी मांगने वाले 3 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। दो बदमाशों को गोली लगी है और दोनों खतरे से बाहर हैं।

-इन बदमाशों ने पुलिस चेकिंग के दौरान पुलिस टीम पर फायरिंग की तो पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए बचाव में गोली चलाई। तीनों बदमाशों के आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।

two miscreants injured in police encounter in noida
two miscreants injured in police encounter in noida
two miscreants injured in police encounter in noida
X
two miscreants injured in police encounter in noida
two miscreants injured in police encounter in noida
two miscreants injured in police encounter in noida
two miscreants injured in police encounter in noida
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..