एनकाउंटर करने के बाद इस SP का हुआ दूल्हे जैसा WELCOME

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शामली. यूपी के शामली में आईपीएस को घोड़ाबग्गी में एक दूल्हे की तरह बैठाकर बैंड-बाजों के साथ घुमाया। साथ ही पुलिस फोर्स बाराती बनी साथ चलती दिखाई दी। दरअसल, 4 दिन पहले पुलिस की विशेष टीम ने 2 बदमाशों को मुठभेड़ में मार गिराया था। इस मिशन को आईपीएस ने लीड किया था। जिसके बाद समाजसेवियों ने उनके सम्मान में भव्य स्वागत का आयोजन किया। एनकाउंटर में मिली जीत तो ऐसा हुआ वेलकम...
 
 
- मामला जिले के भूरा गांव का है। यहां 4 दिन पहले दो बदमाशों को मुठभेड़ में मार गिराने के बाद जश्न मनाया गया।
- एनकाउंटर टीम का मंगलवार को समाजसेवी संस्थाओं के द्वारा एक भव्य स्वागत समारोह आयोजित किया गया।
- इस मिशन को लीड करने वाले आईपीएस रेंज डॉ. अजय पाल शर्मा की पोस्टिंग बतौर एसपी शामली में है।
- समाजसेवियों ने उन्हें घोड़ा बग्गी में एक दूल्हे की तरह बैठाकर बैंड बाजों के साथ कस्बा झिंझाना का भ्रमण कराया। 
- स्वागत समारोह के इस कार्यक्रम में आईपीएस ओर उनकी टीम को सम्मानित किया गया है। कसबे के रहने वाले लोगों ने मिलकर फूल माला देकर सम्मानित किया। 
 
क्या कहना है स्थानीय लोगों का ?
- स्थानीय निवासी वसीम कुरैशी का कहना है, \'\'एसपी शामली डॉ. अजय पाल शर्मा के नेतृत्व में जिले में क्राइम कम हो रहा है। एसपी साहब हमारे मेहमान जैसे हैं। वो अच्छा काम कर रहे हैं, इसलिए टीम का भव्य स्वागत किया गया।\'\'
- वहीं, नागरिक जितेंद्र चौहान का भी मानना है, \'\'पुलिस ने हाल में अच्छा काम किया, जिससे क्षेत्र में बदमाशों के भय का माहौल थोड़ा कम हुआ। \'\'एसपी डॉ. अजय पाल शर्मा के नेतृत्व में जिस तरह से बदमाशों पर कार्रवाई की जा रही है वह सराहनीय है। उसका सम्मान किया जाना चाहिए।\'\' 
- इस मामलें में एसपी शामली डॉ. अजय पाल शर्मा ने बताया कि पुलिस को सम्मानित  किया गया है, ये हमारे उत्साह के लिए एक गर्व और खुशी की बात है। जिस प्रकार से हमारी टीम का स्वागत किया गया है, उससे ऐसा लगता है कि यहां की जनता को एक बड़ी राहत मिली है। हम जनता के इस भरोसे को कम नहीं होने देंगे। 
 
29 जुलाई को हुआ था एनकाउंटर
-  29 जुलाई को पुलिस और बदमाशों के बीच में मुठभेड़ हुई। इसमें 60 हजार रुपये के इनामी बदमाश नौशाद उर्फ डैनी और 12 हजार के इनामी बदमाश सरवर को मार गिराया था।
-  मुठभेड़ में 2 थानाध्यक्षों समेत 5 पुलिसकर्मी भी घायल हुए। घटना में बदमाशों के पास से विदेशी पिस्टल और सैकड़ो जिंदा कारतूस बरामद किए गए।दोनों मृत बदमाश गांव भूरा के ही रहने वाले थे।
- यह पुलिस और बदमाशों के बीच एक महीनें में 5वीं मुठभेड़ थी। मृतक डैनी पर हरियाणा में 2 बार ट्रिपल मर्डर और कई अन्य घटनाओं में वंचित चल रहा था।
 
 
खबरें और भी हैं...