मेरठ

--Advertisement--

सशक्त गॉड फादर वाले ही पहुंचते हैं पॉल‍ि‍ट‍िक्स में, युवाओं को आगे आने की जरूरत: वरुण गांधी

वरुण गांधी शुक्रवार को एक कॉलेज के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि स्टूडेंट्स को संबोधित कर रहे थे।

Dainik Bhaskar

Nov 17, 2017, 07:37 PM IST
वरुण गांधी ने कहा, मेरे नाम के साथ भी गांधी जुड़ा है। अगर गांधी नाम नहीं जुड़ा होता तो शायद इस कॉलेज में मुझे नहीं बुलाया जाता। वरुण गांधी ने कहा, मेरे नाम के साथ भी गांधी जुड़ा है। अगर गांधी नाम नहीं जुड़ा होता तो शायद इस कॉलेज में मुझे नहीं बुलाया जाता।

मेरठ. बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने कहा, ''राजनीति में युवाओं को आने की जरूरत है। लेकिन आज राजनीति में वही युवा आगे आ रहे हैं जिनकी राजनीत‍िक पर‍िवार हैं। ये गलत नहीं है, लेकिन हमारे ऊपर और बड़ी जिम्मेदारी बन जाती है। राजनीति में वही आगे आ रहे हैं जिनका सशक्त गॉड फादर हैं।'' वरुण गांधी शुक्रवार को एक कॉलेज के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि स्टूडेंट्स को संबोधित कर रहे थे। आगे पढ़‍िए और क्या बोले वरुण गांधी...

- उन्होंने कहा, ''राजनीति में कुछ परिवारों के नाम ही सामने आते रहे हैं। मेरे नाम के साथ भी गांधी जुड़ा है। अगर गांधी नाम नहीं जुड़ा होता तो शायद इस कॉलेज में मुझे नहीं बुलाया जाता, लेकिन हमें बंद दरवाजे खोलने होंगे। नया खून राजनीति में आएगा तो इसका लाभ देश की जनता को मिलेगा।''
- ''हमारा लोकतंत्र मजबूत तो है, लेकिन इसके और अधिक मजबूत करने की जरूरत है। दिल्ली में एसी में बैठकर बनने वाले कानून का उतना लाभ जनता को नहीं मिलता जितना मिलना चाहिए।''
- ''सरकार 70 फीसदी पैसा विकास योजनाओं पर खर्च करती है, लेकिन इसकी जानकारी आम जनता को नहीं होती। इस जानकारी को जनता तक पहुंचाने की जरूरत है।''
- ''आर्थिक असमानता बढ़ती जा रही है। यह हमारे लिए खतरनाक है। मैं चाहता हूं कि ऐसी व्यवस्था हो कि हमारी बेटी और एक रिक्शा वाले की बेटी दोनों को बराबर के अवसर मिले।''

हमारे देश में टैलेंट की कमी नहीं
- वरुण गांधी ने कहा, ''हमारे देश में टैलेंट की कमी नहीं है। मैं देश के अलग-अलग स्थानों पर जाता हूं, वहां एक से बढ़कर एक टैलेंट देखने को मिलता है। जरूरत है कि अपने टैलेंट को पहचान कर आगे बढ़ने की।''

-स्टूडेंटस को संबोधित करते हुए उन्होंने कुछ ऐसे व्यक्तियों के उदाहरण दिए जिनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी, पर उन लोगों ने अपने दृढ़ निश्चिय से पढ़ाई कर कामयाबी हासिल की।
-वरुण गांधी ने स्टूडेंटस को पढ़ाई और कठिन परिश्रम के लिए प्रेरित किया। कार्यक्रम के दौरान कॉलेज प्रबंधन और अन्य स्टाफ मौजूद रहा।

वरुण आंधी ने कहा, लोकतंत्र को और मजबूत करने की जरूरत। वरुण आंधी ने कहा, लोकतंत्र को और मजबूत करने की जरूरत।
X
वरुण गांधी ने कहा, मेरे नाम के साथ भी गांधी जुड़ा है। अगर गांधी नाम नहीं जुड़ा होता तो शायद इस कॉलेज में मुझे नहीं बुलाया जाता।वरुण गांधी ने कहा, मेरे नाम के साथ भी गांधी जुड़ा है। अगर गांधी नाम नहीं जुड़ा होता तो शायद इस कॉलेज में मुझे नहीं बुलाया जाता।
वरुण आंधी ने कहा, लोकतंत्र को और मजबूत करने की जरूरत।वरुण आंधी ने कहा, लोकतंत्र को और मजबूत करने की जरूरत।
Click to listen..