--Advertisement--

एनजीटी ने कहा- 124 फैक्ट्री मालिकों के खिलाफ दर्ज किया जाए केस; हिंडन को प्रदूषित करने के मामले में सुनवाई

कार्रवाई की रिपोर्ट 5 मार्च 2019 तक सौंपने का निर्देश

Dainik Bhaskar

Aug 09, 2018, 05:35 AM IST
case for polluting Hindan on factory owners NGT Hearing

नोएडा. हिंडन नदी के किनारे नोएडा में बनी औद्योगिक ईकाइयों से होने वाले प्रदूषण को लेकर एनजीटी ने सख्त आदेश जारी किया है। एनजीटी ने कहा कि जिन फैक्ट्रियों का प्रदूषित पानी हिंडन में गिराया जा रहा है, उनके मालिकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए। इन ईकाइयों को तत्काल बंद करने को भी कहा है।

ट्रीटमेंट प्लांट नहीं लगे होने से नदी में बढ़ रहा प्रदूषण: औद्योगिक ईकाइयों से निकलने वाले केमिकल और प्रदूषित जल को ट्रीटमेंट करने के लिए ईटीपी लगाना जरूरी होता है। लेकिन नोएडा समेत पश्चिमी यूपी की 124 ईकाइयों में ट्रीटमेंट प्लांट नहीं लगा है। इससे हिंडन नदी में डिजॉल्व ऑक्सीजन की मात्रा कम होती जा रही है। पानी में डीओ की मात्रा कम से कम 8 मिलीग्राम प्रति लीटर होनी चाहिए, जो 2-4 मिलीग्राम प्रति लीटर से भी कम है।

यह है एनजीटी का आदेश: एनजीटी ने पश्चिमी यूपी की नदियों हिंडन, कृष्णा और काली नदी में बढ़ते प्रदूषण को लेकर निर्देश देते हुए कहा कि इन्हें दूषित कर रहीं 124 औद्योगिक ईकाइयों पर एफआईआर दर्ज की जाए।

X
case for polluting Hindan on factory owners NGT Hearing
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..