--Advertisement--

मुजफ्फरनगर / हाथ जोड़ मिन्नतें करते रहे बंधक बने शुगर मिल कर्मी, एसडीएम के पहुंचने पर किसानों ने छोड़ा



बंधक बने शुगर मिल कर्मी। बंधक बने शुगर मिल कर्मी।
X
बंधक बने शुगर मिल कर्मी।बंधक बने शुगर मिल कर्मी।

  • तितावी शुगर मिल के थे कर्मचारी
  • गन्ना पर्ची न मिलने व बकाएदारी से नाराज थे किसान
  • एसडीएम व अन्य विभागीय अधिकारियों ने कार्रवाई का आश्वासन देकर कराया शांत

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 09:50 AM IST

मुजफ्फरनगर. गन्ना पर्ची न मिलने व बकाएदारी से नाराज पिन्ना गांव के किसानों ने शुक्रवार की सुबह तितावी शुगर मिल के कई कर्मियों को बंधक बना लिया। यह मामला तबका है, जब कर्मी सुबह दो बसों पर सवार होकर मिल जा रहे थे। किसानों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया। कर्मी हाथ जोड़कर किसानों से रिहाई की मिन्नतें करते रहे। लेकिन एसडीएम, जिला गन्ना अधिकारी व मिल अधिकारियों के पहुंचने पर ही किसानों ने कर्मियों को छोड़ा। 

 

 

गन्ना किसान शुभम मलिक ने बताया कि गन्ने की पर्ची नहीं मिल रही है। खेतों में खड़ा गन्ना सूख रहा है। पिछले साल का बकाया भी चुकता नहीं किया गया है। यदि ऐसे ही हालात रहे तो मिल को चलने नहीं दिया जाएगा। बच्चों की फीस नहीं जमा हो पा रही है। घर का खर्च चलाना मुश्किल हो गया है। 

 

सुमित मलिक ने बताया कि मिल के अधिकारी संतोषजनक जवाब नहीं दे रहे हैं। गेंहू की बोआई होनी है। लेकिल खेत खाली नहीं हो पा रहे हैं। अधिकारियों ने जांच का भरोसा दिया है।  पिन्ना के किसानों का अभी लाखों रुपए बकाया है। जबकि मिल अधिकारी बताते हैं कि कोई बकाया नहीं है। मजबूरन किसानों को अपना गन्ना कोल्हू पर बेंचना पड़ रहा है। 

 

एसडीएम धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि इस बार शुगर मिल थोड़ी देरी से शुरू हुई है। इसीलिए किसानों को दिक्कत है। किसानों के साथ भेदभाव नहीं होने दिया जाएगा। मिल के डिप्टी मैनेजर विवेक कुमार ने बताया कि, जल्द ही सभी समस्याओं का समाधान कर लिया जाएगा। जिला गन्ना अधिकारी डॉक्टर आरबी द्विवेदी ने बताया कि, किसानों ने बस रोकी थी। किसी को बंधक नहीं बनाया था।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..