--Advertisement--

अजीत सिंह का ऐलान, कहा- अब नहीं लडूंगा इलेक्शन, महागठबंधन के बिना नहीं लड़ा जा सकता 2019 का चुनाव

अजीत सिंह ने कहा अब मैं चुनाव नहीं लडूंगा क्योंकि 80 साल का हो गया हूं।

Danik Bhaskar | Jul 24, 2018, 07:31 PM IST

बागपत. राष्ट्रीय लोक दल (आरएलडी) के मुखिया चौधरी अजित सिंह 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंने की बात ही है। मंगलवार को बागपत में पार्टी की चुनाव समीक्षा बैठक में पहुंचे अजीत सिंह ने कहा, 'अब मैं चुनाव नहीं लडूंगा क्योंकि 80 साल का हो गया हूं। जरूरी नहीं है कि मैं अब चुनाव ही लड़ता रहूं। वहीं, उन्होंने कहा कि 2019 का लोकसभा चुनाव बिना गठबंधन के नहीं लड़ा जा सकता है।

राहुल की झप्पी को जवाब नहीं दे पाए मोदी: अजीत सिंह ने कहा, 'संसद में राहुल की प्यार की झप्पी का जवाब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नहीं दे पाए। भाजपा समाज को लड़वाना चाहती है। भाजपा को हराने के लिए भाईचारा बनाए रखने की जरूरत है। गठबंधन जनता और कार्यकर्ताओं की मांग है। महागठबंधन के तहत 2019 का चुनाव लड़ना हर दल की मजबूरी है अगर 2019 का लोकसभा चुनाव कोई दल अकेला लड़ता है तो वह समाप्त हो जाएगा।

कौन हैं अजीत सिंह: अजीत सिंह पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के बेटे हैं। वो 1986 में पहली बार राज्यसभा के लिए चुने गए। 1989 में वे बागपत से पहली बार लोकसभा सांसद बने। 1998 में उन्होंने राष्ट्रीय लोकदल पार्टी का गठन किया। मोदी लहर के कारण 2014 के लोकसभा चुनावों में वो बागपत से भाजपा उम्मीदवार रहे मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर सतपाल सिंह से चुनाव हार गए थे। अजीत सिंह केन्द्र में मंत्री भी रहे।