उत्तरप्रदेश / महिला कांस्टेबल का आरोप- बेटे पर साया बताकर मौलाना सालभर से करता आ रहा दुष्कर्म



Uttar Pradesh: Baghpat female constable accused maulana for rape
X
Uttar Pradesh: Baghpat female constable accused maulana for rape

  • कहा न मानने पर कांस्टेबल को उसके बेटे की मौत की चेतावनी देकर डराता आ रहा था आरोपी, एफआईआर
  • मौलाना ने खुद को निर्दोष बताया, बोला- उसका मकान खरीदने के लिए कांस्टेबल ने 27 लाख का फर्जी चेक थमाया
  • पता चलने पर उसने मकान का बैनामा नहीं किया, तो कांस्टेबल ने रची झूठी कहानी, पहले भी कर चुकी है साजिश

Dainik Bhaskar

Oct 05, 2019, 10:33 AM IST

बागपत. मोमिन मस्जिद का एक मौलाना महिला हेड कांस्टेबल का साल भर से यौन शोषण करता रहा और उससे लाखों रुपए भी ऐंठ लिए। हेड कांस्टेबल अपने बेटे के इलाज और घर की सुख शांति के लिए मौलाना के जाल में फंस गई। शारीरिक संबंध न बनाने पर आरोपी मौलाना महिला हेड कांस्टेबल को उसके बेटे की मौत की चेतावनी देकर डराता आ रहा था।

 

खुद को जिन बताकर किया रेप
बिजनौर निवासी महिला साल 2006 में पति की मौत के बाद आश्रित कोटे में कांस्टेबल के पद पर तैनात हुई थी। पिछले साल 29 जून को उसका छोटा पुत्र सड़क हादसे में घायल हो गया था। बेटे का कई माह तक आईसीयू में इलाज भी चला। किसी ने उसके बेटे पर ऊपरी-हवा होने की बात बताई, तो कांस्टेबल घबरा गई। बेटे के उपचार के लिए वह 30 जुलाई 2018 को शहर की मोमीन मस्जिद के मौलाना जुबैर के पास पहुंची। आरोप है कि मौलाना ने पीड़िता को उसके बेटे के अंदर जिन होने का हवाला देकर उसे रात में अकेला बुलाया। मौलाना ने खुद को जिन का रूप बताते हुए उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद करीब 15 माह तक कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया और लाखों रुपये हड़प लिए।

 

एसपी ऑफिस से आरोपी गिरफ्तार

परेशान होकर पीड़िता ने पुलिस अफसरों से शिकायत की। बुधवार को महिला थाने में आरोपी मौलाना जुबैर के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। मामला सुर्खियों में आने पर मौलाना जुबैर जनपद की विभिन्न मजिस्दों और मदरसों के इमाम, मौलानाओं के साथ शुक्रवार को एसपी दफ्तर पहुंचा। उसने खुद को निर्दोष बताया तथा मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी उसकी हिमायत की। एसपी प्रताप गोपेंद्र यादव से मुलाकात करने के बाद वे सभी एसपी दफ्तर के बाहर खड़े हो गए थे, तभी कोतवाली पुलिस ने वहां पर पहुंचकर आरोपी को हिरासत में ले लिया।

 

मौलाना ने खुद को बताया बेकसूर

मौलाना ने महिला कांस्टेबले के आरोपों को निराधार बताते हुए खुद को बेकसूर बताया है। उसका कहना है कि उसकी दूध की डेयरी में छह माह से महिला हेड कांस्टेबल दूध लेने के लिए आती थी। इस वजह से उसकी पत्नी से उसकी अच्छी जान पहचान हो गई। इसी आधार पर कांस्टेबल ने उससे बेटी की शादी करने के नाम पर दस लाख रुपये की डिमांड की। उसने असमर्थता जता दी। थोड़े दिन बाद वह उनसे मकान खरीदने की बात करने लगी। कांस्टेबल ने उसको 27 लाख रुपये के फर्जी चेक दे दिए। पता चलने पर उसने मकान का बैनामा नहीं किया तो उन पर दबाव बनाने लगी और दूसरे लोगों से भी धमकी दिलाने लगी।

 

आतंकी कनेक्शन का पहुंचा था पत्र

करीब चार महीने पहले पुलिस अधिकारियों के पास एक गुमनाम पत्र पहुंचा था। इसमें जुबैर के आतंकियों से संबंध होने का शक जताया गया था। खुफिया तंत्र ने उससे पूछताछ भी की थी। मौलाना का कहना है कि तब भी उसको कुछ लोगों ने फंसाने की साजिश की थी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना