विज्ञापन

3 साल बाद लड़की के घर पहुंचा युवक-उसकी हालत देख रो पड़ा, उस दौरान तय किया कि अब तो उसी से शादी करेगा-12 साल किया इंतजार

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 04:07 PM IST

ऐसी लव स्टोरी जिसमें है 15 साल का इंतजार और फिर मिलन

  • comment

मुरादाबाद. यूं तो आपने कई लव स्टोरी देखी-सुनी होंगी, लेकिन कुछ कहानियां ऐसी होती हैं जो हमेशा याद रह जाती हैं। ऐसी एक लव स्टोरी है मुरादाबाद के संजीव और आशा की। संजीव ने अपनी वेलेंटाइन आशा को पाने के लिए 2-4 नहीं बल्कि 15 साल का इंतजार किया। इस सफर में तमाम मुश्किलें आईं, लेकिन संजीव के प्यार के आगे सब पूछे छूटता गया। आखिरकार 2017 में संजीव और आशा एक-दूसरे के हो गए।

2002 में हुई थी शुरुआत
- संजीव कुमार सक्सेना पेशे से फोटोग्राफर हैं। साल 2002 में संजीव और आशा के रिश्ते की बात हुई थी। बात आगे बढ़ती तभी संजीव के पिता की अचानक तबीयत खराब हो गई। इससे इस रिश्ते की बात कुछ समय के लिए टल गई। पिता को ठीक होते होते कई साल बीत गए। घर के हालात कुछ ठीक हुए तो साल 2005 में संजीव आशा के घर पहुंचे। यहां जो देखा उससे संजीव हैरान थे। अब आशा बीमार हो गई थी। और बीमारी ऐसी कि वो चलने फिरने तक में लाचार थी। ये देख संजीव ने तय किया कि वो शादी के लिए आशा के ठीक होने तक का इंतजार करेंगे। लेकिन आशा की हालत नहीं सुधरी। अंततः फरवरी, 2017 में संजीव ने आशा से शादी का फैसला लिया और दोनों विवाह बंधन में बंध गए। साथ ही दोनों ने शादी के दिन ही अपना शरीर भी दान किया।


नोटः वेलेंटाइन डे के मौके पर dainikbhaskar.com ये स्टोरी बता रहा है।

X
COMMENT
Astrology
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें