--Advertisement--

बीते 7 सालों में उत्तर रेलवे में हुए 114 ट्रेन हादसे : 226 लोगों की मौत, 365 घायल

110 मामलों में जांच समिति द्वारा जांच पूरी हो गयी है। जबकि 4 मामलों में जांच आख्या आनी बाकी है।

Danik Bhaskar

Nov 29, 2017, 02:58 PM IST
फाइल। फाइल।

लखनऊ. उत्तर रेलवे में 1 अप्रैल, 2010 से अब तक 114 ट्रेन दर्घटना ग्रस्त हुई हैं। यह जानकारी उत्तर रेलवे, दिल्ली द्वारा एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर को आरटीआई में दी गयी सूचना पर दी गई है। इनमें से 110 मामलों में जांच समिति द्वारा जांच पूरी हो गयी है। जबकि 4 मामलों में जांच आख्या आनी बाकी है।

इन ट्रेन दुर्घटनाओं में कुल 226 लोगों की मौत हुई है। जबकि 365 लोग घायल हुए हैं। रेल दुर्घटनाओं में रेलवे को कुल 27.2 करोड़ रुपये की क्षति पहुंचने की बात बताई गई है। सबसे अधिक हानि 19 अगस्त, 2017 को उत्कल एक्सप्रेस के 13 डब्बों के मुजफ्फरनगर जिले के खतौली स्टेशन पर पटरी से उतरने से हुए।

-इस हादसे में 25 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 105 घायल हुए थे। इस मामले में अभी जांच रिपोर्ट आनी बाकी है। 20 मार्च, 2015 को देहरादून-वाराणसी एक्सप्रेस के रायबरेली के बछरावां स्टेशन के पास पटरी से उतरने से 39 लोगों की मौत तथा 38 लोग घायल हुए थे। इस मामले में 3 रेलवे कर्मियों का पद कम किया गया था।

-नूतन को दी गयी सूचना के अनुसार इन 110 मामलों में 79 अर्थात लगभग 70% मामलों में कोई रेलकर्मी दुर्घटना के लिए जिम्मेदार नहीं पाया गया। शेष मामलों में 172 रेलकर्मी दण्डित किये गए जिसमें 24 रेलकर्मी बर्खास्त किये गए जबकि 4 को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गयी है। दुर्घटना के विभिन्न कारणों में गैर-जिम्मेदार ड्राइविंग के कारण 66 दुर्घटनाएं घटी जबकि 1 मामले में हाथी के अचानक आने से घटना घटी है।

इस साल हो चुके ये बड़े रेल हादसे

-19 अगस्त, 2017: पुरी से हरिद्वार जाने वाली उत्कल एक्सप्रेस यूपी के मुजफ्फरनगर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। इस हादसे में 23 लोग मारे गए थे।
-21 जनवरी, 2017: कुनेरू के पास जगदलपुर-भुवनेश्वर हीराखंड एक्सप्रेस पटरी से उतरी गई थी। इसमें 40 से ज्यादा की मौत और 68 घायल हो गए थे।
-7 मार्च, 2017: मध्य प्रदेश में भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में बम फटा था, जिसमें 10 लोग घायल हो गए थे।

फाइल। फाइल।
Click to listen..