--Advertisement--

CM हेल्पलाइन सेंटर से बेहोशी की हालत में निकलीं लड़कियां, छेड़खानी का आरोप

मामला यूपी के लखनऊ में विभूतिखंड के साइबर टावर स्थित सीएम हेल्पलाइन ऑफिस का है।

Danik Bhaskar | Mar 09, 2018, 06:25 PM IST
यूपी सीएम हेल्पलाइन ऑफिस में बेहोशी की हालत में महिला कर्मचारी। यूपी सीएम हेल्पलाइन ऑफिस में बेहोशी की हालत में महिला कर्मचारी।

लखनऊ. वुमन्स डे के दूसरे ही दिन सीएम हेल्पलाइन कॉल सेंटर में महिलाओं के साथ टॉर्चर का मामला सामने आया है। आरोप है कि महिला कर्मचारियों को एक कमरे में बंद कर दिया गया। जहां उन्हें इतना टॉर्चर किया गया कि वे बेहोश हो गईं। फिर आनन-फानन में उन्हें लोहिया अस्पताल ले जाया गया। क्या है मामला?

- मामला गोमतीनगर में विभूतिखंड के साइबर टावर स्थित सीएम हेल्पलाइन ऑफिस का है।
- इसका काम बीपीओ स्योरविन नाम की एक कंपनी देख रही है।
- जानकारी के मुताबिक, महिला कर्मचारी चार महीने से वेतन नहीं मिलने का विरोध कर रही थीं।
- युवतियों का आरोप है कि उनके सुपरवाइजर अनुराग और टीम लीडर आशुतोष ने जबरन सादे कागज पर साइन करवा लिए।
- यही नहीं, अपशब्द कहते हुए उनसे छेड़खानी भी की गई।

पुलिस पर लगा जिंदगी बर्बाद करने का आरोप
- आरोप है कि महिला कर्मचारी जब पास के थाने में एफआईआर लिखवाने गईं, तो टीआई ने उल्टे जेल में बंद कर जिंदगा बर्बाद करने की धमकी दी।
- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 1500 कर्मचारी बीते चार महीने से वेतन नहीं मिलने से नाराज हैं।
- इस कड़ी में बीते 7 मार्च को कर्मचारियों ने सड़क पर उतरकर विरोध जताया था।