--Advertisement--

उपचुनाव: यूपी की 2 और बिहार की एक लोकसभा सीट के लिए वोटिंग आज, 2 विधानसभा सीटों में भी चुनाव

14 मार्च को उपचुनाव के नतीजे जारी आएंगे। इस चुनाव में बसपा ने सपा का समर्थन किया है।

Danik Bhaskar | Mar 11, 2018, 12:04 AM IST
केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री शिवप्रताप शुक्ला ने गोरखपुर में अपनी पत्नी के साथ वोट डाला। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री शिवप्रताप शुक्ला ने गोरखपुर में अपनी पत्नी के साथ वोट डाला।

लखनऊ. दो राज्यों की 3 लोकसभा और दो विधानसभा सीटों में उपचुनाव के लिए रविवार को वोटिंग हुई। यूपी की फूलपुर लोकसभा सीट पर 37%, गोरखपुर सीट पर 43% मतदान हुआ। वहीं, बिहार की अररिया लोकसभा सीट पर 57% वोट पड़े। राज्य की दो विधानसभा सीटों पर भी रविवार को वोटिंग हुई। इनमें भभुआ में 54% और जहांनाबाद में 50% वोटिंग हुई। उपचुनाव के नतीजे 14 मार्च को नतीजे आएंगे।

यूपी में पिछली बार से 11-12 फीसदी कम वोटिंग

- 2014 लोकसभा चुनाव में फूलपुर में 50.20% और गोरखपुर में 54.64% वोटिंग हुई थी। पिछले चुनाव के मुकाबले इस बार 11% से 12% की वोटिंग कम हुई है।

क्यों हो रहे हैं चुनाव?
लोकसभा

1. गोरखपुर, यूपी: योगी आदित्यनाथ यहां से 5 बार सांसद चुने गए। यूपी के मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने 21 सितंबर, 2017 को सीट छोड़ दी।
2. फूलपुर, यूपी: केशव प्रसाद मौर्य यहां से सांसद थे। उनके यूपी के डिप्टी सीएम बनने के बाद यह सीट खाली हुई।
3. अररिया, बिहार: इस सीट से आरजेडी के सांसद तस्लीमुद्दीन का 17 सितंबर, 2017 को निधन हो गया। जिसके बाद यह सीट खाली हुई।

विधानसभा
1. भभुआ, बिहार:
यह सीट बीजेपी विधायक आनंद भूषण पांडेय के निधन के चलते खाली हुई।
2. जहांनाबाद, बिहार: इस सीट से आरजेडी विधायक मुंद्रिका सिंह का निधन हो गया था।

क्या बोले योगी?

- "प्रदेश और देश की जनता ने 2014 और 2017 में वंशवाद और परिवारवाद की राजनीति करने वालों को नकार दिया है। गोरखपुर में मुझे पहला वोट डालने का अवसर मिला। फूलपुर और गोरखपुर में बीजेपी प्रचंड बहुमत से जीतेगी।"
- शनिवार उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा मैं गोरखपुर और फूलपुर की जनता से लोकतंत्र के इस महापर्व में अधिक से अधिक भागीदार होने की अपील करता हूं। क्योंकि गोरखपुर संसदीय क्षेत्र में मैं 5 बार सांसद था और प्रधानमंत्री जी ने मुझे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का दायित्व दिया है और फूलपुर से केशव प्रसाद मौर्य जी सांसद बने थे उन्हें प्रदेश का उपमुख्यमंत्री के रूप मैं सेवा करने का मौका मिला है।
- "दोनों सीटों पर हम लोगों ने इस्तीफा देकर उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी के कर्मठ कार्यकर्ताओं को चुनाव में उतारा है। मेरी दोनों संसदीय क्षेत्र के जनता से अपील है कि लोकतंत्र का महापर्व में वोटिंग करके इस देश के अंदर लोकतांत्रिक प्रक्रिया को मजबूत करने का अपना योगदान दें।"

गोरखपुर में इस बार किसके बीच मुकाबला?

बीजेपी उम्मीदवार उपेंद्र दत्त शुक्ल
सपा+बसपा का उम्मीदवार प्रवीण निषाद
पिछली बार कौन जीता योगी आदित्यनाथ, बीजेपी

फूलपुर में इस बार किसके बीच मुकाबला?

बीजेपी उम्मीदवार कौशलेंद्र सिंह पटेल, वाराणसी के मेयर रह चुके हैं।
सपा+बसपा का उम्मीदवार नागेंद्र सिंह पटेल, सपा के मंडल अध्यक्ष हैं।
निर्दलीय उम्मीदवार अतीक अहमद, सपा के टिकट पर सांसद रह चुके हैं, जेल से चुनाव लड़ रहे हैं, सपा के वोट काट सकते हैं
पिछली बार कौन जीता केशव प्रसाद मौर्य, बीजेपी

अररिया में इस बार किसके बीच मुकाबला?

बीजेपी उम्मीदवार

प्रदीप सिंह, 2014 लोकसभा चुनाव में तस्लीमुद्दीन से हारे थे।

आरजेडी उम्मीदवार

सरफराज, तस्लीमुद्दीन की मौत के बाद खाली हुई इस सीट पर आरजेडी ने बेटे सरफराज को टिकट दिया है।

पिछली बार कौन जीता तस्लीमुद्दीन, आरजेडी

जहांनाबाद में इस बार किसके बीच मुकाबला?

जदयू उम्मीदवार अभिराम शर्मा

आरजेडी उम्मीदवार

कुमार कृष्ण उर्फ सुदय यादव
पिछली बार कौन जीता मुंद्रिका सिंह यादव, आरजेडी

भभुआ में इस बार किसके बीच मुकाबला?

बीजेपी उम्मीदवार रिंकी रानी पांडेय
कांग्रेस उम्मीदवार शम्भू सिंह पटेल
पिछली बार कौन जीता आनंदभूषण पांडेय, बीजेपी
गोरखपुर सीट से योगी आदित्यनाथ 5 बार सांसद रहे थे। गोरखपुर सीट से योगी आदित्यनाथ 5 बार सांसद रहे थे।
बिहार की भभुआ और जहानाबाद में विधानसभा के लिए वोटिंग होगी। फाइल बिहार की भभुआ और जहानाबाद में विधानसभा के लिए वोटिंग होगी। फाइल
योगी आदित्यनाथ के इस्तीफा देने के बाद खाली हुई है गोरखपुर की सीट। योगी आदित्यनाथ के इस्तीफा देने के बाद खाली हुई है गोरखपुर की सीट।
जेल में बेद अतीक अहमद फूलपुर से निर्दलीय उम्मीदवार हैं। जेल में बेद अतीक अहमद फूलपुर से निर्दलीय उम्मीदवार हैं।