--Advertisement--

तैयार बैठी रह गई दुल्हन, इतनी सी बात पर इंजीनियर दूल्हा नहीं लाया बारात

एक साल पहले लड़की की शादी इंजीनियर दूल्हे से तय हुई थी। ऐन वक्त लड़के वाले बारात लेकर नहीं आए।

Danik Bhaskar | Nov 24, 2017, 04:39 PM IST
लड़की के घर वालों ने थाने में केस दर्ज करा दिया है। लड़की के घर वालों ने थाने में केस दर्ज करा दिया है।

लखनऊ. लड़की वाले बारात आने का इंतजार कर रहे थे। बारातियों के लिए नाश्ता-खाना सब तैयार था। जयमाला के लिए स्टेज भी सजाया गया था, लेकिन ऐन वक्त पर बारात नहीं आई। सबकुछ हो गया था फिक्स, ऐन वक्त दिया धोखा....


- शहर के तेलीबाग इलाके के कुबेर बगिया में रहने वाली स्वाति (बदला हुआ नाम) एक हॉस्पिटल में स्टॉफ नर्स है। करीब एक साल पहले उसकी शादी गोमतीनगर के पत्रकारपुरम में रहने वाले मेवालाल के बेटे रोहित से तय हुई। वो निजी कंपनी में इंजीनियर है।
- स्वाति की बहन ने बताया, "जुलाई में शादी तय होने के बाद गुरुवार को तिलक और शादी के लिए तेलीबाग के शिवभवन गेस्ट हाऊस में वेन्यू तय हुआ। गुरुवार दोपहर से ही मोहित का पिता मेवालाल यह दबाव बना रहे थे, तिलक में दिए जाने वाले पांच लाख रुपए घर पहुंचा दो।"

- "उसके बाद लड़के वालों से बात हुई, तब वो लोग तय कार्यक्रम के अनुसार बारात लाने के लिए राजी हो गए थे। रात 11 बजे तक बारात नहीं आई, तब हमने लड़के के घरवालों को फोन किया। उन्होंने कहा- जब तक पांच लाख रु. घर नहीं पहुंचाते, तब तक वह बारात लेकर नहीं आएंगे। यह बात सुनकर हमारे होश उड़ गए। रिश्तेदारों ने भी फोन कर समझाने का प्रयास किया, लेकिन वो नहीं माने। तब परिवार वाले थाने पहुंच गए। बारात के लिए तैयार खाना और जयमाल के लिए सजा स्टेज ऐसे ही पड़ा रहा।

दूल्हे और उसके पिता पर केस दर्ज
- पीजीआई थाने के एसएसआई आशुतोष सिंह ने बताया, "लड़की वालों की शिकायत पर आरोपी दूल्हे को अरेस्ट कर लिया गया है, जबकि उसका पिता फरार है।"

जयमाल के लिए तैयार स्टेज और कुर्सियां ऐसे ही रखी रह गई। जयमाल के लिए तैयार स्टेज और कुर्सियां ऐसे ही रखी रह गई।
23 नवंबर को शादी समारोह के लिए मैरिज हॉल बुक किया गया था। 23 नवंबर को शादी समारोह के लिए मैरिज हॉल बुक किया गया था।