Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» AGI Decreased In Lucknow After Artificial Rain

पानी के छिड़काव से राजधानी में 15 दिन के न्यूनतम स्तर पर पहुंचा AQI, अभी बना रहेगा SMOG

लखनऊ में बढ़ते प्रदूषण की रोकथाम के लिए गुरुवार को फायर बिग्रेड और नगर निगम के टैंकरों से पानी का छिड़काव किया गया था।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 17, 2017, 03:15 PM IST

  • पानी के छिड़काव से राजधानी में 15 दिन के न्यूनतम स्तर पर पहुंचा AQI, अभी बना रहेगा SMOG
    +1और स्लाइड देखें
    शुक्रवार को लखनऊ में प्रदूषण का लेवल घटकर 238 माइक्रोग्राम पर आकर रुक गया, जबक‍ि 24 घंटे पहले ये आंकड़ा 402 रिकॉर्ड किया गया था।

    लखनऊ.राजधानी में बढ़ते प्रदूषण की रोकथाम के लिए गुरुवार को फायर बिग्रेड और नगर निगम के टैंकरों से पानी का छिड़काव किया गया था। जिसके 24 घंटे बाद यानी शुक्रवार को एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (एक्यूआई) में गिरावट देखने को मिली। लखनऊ में प्रदूषण का लेवल 15 दिन के न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया। शुक्रवार को लखनऊ में प्रदूषण का लेवल घटकर 238 माइक्रोग्राम पर आकर रुक गया, जबक‍ि 24 घंटे पहले ये आंकड़ा 402 रिकॉर्ड किया गया था। वहीं, मौसम विभाग ने ठंड में हल्की बढ़ोतरी और स्मॉग बने रहने की संभावना जताई है। CM योगी की मीटि‍ंग के बाद हुआ पानी का छ‍िड़काव...



    - लखनऊ में मंगलावर को प्रदूषण का लेबल बढ़कर 424 माइक्रोग्राम तक पहुंच गया था। इसके बाद सीएम योगी ने विभागीय अधिकारियों के साथ हाई लेबल मीटिंग की थी।
    - मीटिंग में सीएम ने कहा था, "आईआईटी कानपुर के एक्सपर्ट के साथ मिलकर इसके कृत्रिम बारिश के लिए प्लानिंग बनाई जाए। इस पर ये भी विचार किया जाए,आर्टिफिशियल बारिश का तरीका कितना बेहतर है।

    - ''निर्देश के अनुसार , गुरुवार को हजरतगंज, गोमती नगर, महानगर, निरालानगर, आलमबाग़, और चारबाग में पानी से पेड़ों में बौछार कराई गई थी।



    पॉल्युशन का लेवल
    शहर - AQI (एयर क्वॉलिटी इंडेक्स)
    मुरादाबाद - 421 माइक्रोग्राम
    गजियाबाद - 419 माइक्रोग्राम
    लखनऊ - 238 माइक्रोग्राम
    कानपुर - 336 माइक्रोग्राम
    नोएडा - 366 माइक्रोग्राम


    कूड़ा जलाने पर होगी FIR
    - बीते दिनों बढ़ते वायु प्रदूषण के इफेक्ट को कम करने के लिए नगर आयुक्त उदय राज सिंह ने निर्देश देते हुए कहा था, ''शहर के किसी भी क्षेत्र, गली और मोहल्ले में कूड़ा न जलाया जाए। अगर आदेश के बाद भी कोई कूड़ा जलाता है, तो पर्यावरण विभाग के नियम के आधार पर उस पर एफआईआर दर्ज की जाएगी।"

    - वहीं, डीएम कौशलराज शर्मा ने शादी और समारोह में आतिशबाजी पर रोक लगाते हुए ऐसा करने वालों पर धारा 144 में FIR का आदेश दिया है।
    - इस आदेश का प्रभाव 16 नवंबर से 15 जनवरी तक रहेगा। सीएम की सख्ती के बाद प्रदूषण को कंट्रोल करने में सभी विभाग जुटे हैं।


    डीजल जनरेटर के इस्तेमाल पर रोक
    - बढ़ते प्रदूषण को रोकने के लिए निर्माण स्थलों पर डीजल जनरेटरों का प्रयोग न करने के लिए भी कहा गया है। मिट्टी खुदाई के बाद पानी का छिड़काव करने के निर्देश दिए गए हैं।
    - यहीं नहीं, ऐसे स्थानों पर राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण के आदेशों के बाद लखनऊ विकास प्राधिकरण ने सभी ठेकेदारों को इस संबंध में कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।


    क्या कहते हैं मौसम विभाग के अध‍िकारी
    -मौसम विभाग के डायरेक्टर जेपी गुप्ता के मुताबिक, राजधानी में स्मॉग अभी अगले कुछ दिनों तक ऐसे ही बना रहेगा। सुबह और शाम के समय हल्की ठंड महसूस की जाएगी। दोपहर में मौसम साफ रहेगा। रेनफॉल होने की अभी कोई संभावना नहीं है।



  • पानी के छिड़काव से राजधानी में 15 दिन के न्यूनतम स्तर पर पहुंचा AQI, अभी बना रहेगा SMOG
    +1और स्लाइड देखें
    सीएम योगी के साथ मीट‍िंग के बाद अध‍िकार‍ियों ने करवा था राजधानी में पानी का छ‍िड़काव।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×