--Advertisement--

पूजा कर मतदान करने पहुंची सपा की किन्नर कैंडिडेट : कहा- जनता PM बनाए या मेयर, राम मेरे साथ हैं

अयोध्या पहली बार नगर निगम बना है। सपा ने यहां से एक किन्नर प्रत्याशी को उम्मीदवार बनाया है।

Danik Bhaskar | Nov 22, 2017, 10:16 AM IST
सपा मेयर पद की किन्नर प्रत्याशी गुलशन बिंदु ने पहले पूजा किया फिर मतदान करने पहुंची। सपा मेयर पद की किन्नर प्रत्याशी गुलशन बिंदु ने पहले पूजा किया फिर मतदान करने पहुंची।

अयोध्या. पहली बार बने नगर निगम बने अयोध्या में पहले चरण के लिए वोटिंग शुरू हो गई है। जिला प्रशासन भी चुनाव के प्रति बेहद संवेदनशील है और चुनाव सकुशल सम्पन्न कराने के लिए सेक्टर वार मजिस्ट्रेटों की तैनाती के साथ-साथ संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान स्थलों की निगरानी की पूरी व्यवस्था है। अयोध्या नगर निगम में सबसे पहले वोट डालने वाले धीरज ने कहा-"इस बार अयोध्या नगर निगम की वोटिंग का केंद्र बिंदु है। वहीं, अपना मत डालने के बाद सपा मेयर पद की किन्नर प्रत्याशी गुलशन बिंदु जनता के अलावा राम के सहारे जीत का दावा करते हुए दिखाई दीं। मतदाताओं में जागरुकता

-अयोध्या नगर निगम बनने के बाद मतदान को लेकर मतदाताओं में खासी जागरूकता है। लोग पहला वोट डालने के लिए वोटर्स समय से पहले ही मतदान बूथ पर पहुंच गए।
-धीरज दूबे ने कहा- "हमने पहला वोट दिया है इसलिए कि जो भी जीते अच्छा प्रत्याशी जीते। वो प्रत्याशी जीते जो विकास करे और बुनियादी सुविधाओं का ध्यान रखे इसीलिए वह खुद से पहला वोट देकर शुरुआत करना चाहता था।"


सपा की मेयर उम्मीदवार ने पहले की पूजा
-सपा मेयर पद की किन्नर प्रत्याशी गुलशन बिंदु ने पहले पूजा किया फिर मतदान करने पहुंची। वोट डालने के बाद बिन्दु ने कहा- "जनता तो चाहे प्रधानमंत्री बना दे या चाहे तो मेयर लेकिन राम उनके साथ हैं। उन्होंने 14 साल तक राम की तपस्या की है।"

क्या कहना है अधिकारियों का
-जिलाधिकारी फैजाबाद अनिल कुमार ने बताया- "79 मतदान केन्द्रों में 26 संवेदनशील, 29 अतिसंवेदनशील और 8 अतिसंवेदनशील प्लस मतदान केन्द्रों के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं की गयी है। हर जगह की वीडियोग्राफी कराई जा रही है अति संवेदन शील मतदान केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाये गए हैं। अतिसंवेदनशील प्लस मतदान केन्द्रों की वेबकास्टिंग कराई जा रही है जिससे आलाधिकारी ऑनलाइन मतदान केन्द्रों को निगरानी कर सकेगें।
-एसएसपी फैजाबाद सुभाष चंद बघेल ने बताया- "सुरक्षा के लिहाज से पूरे जिले को 6 सुपर जोन और 11 जोन और 21 सेक्टर में बांट कर निगरानी हो रही है। शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए थाना मोबाइल पुलिस और एक क्ल्वाटिंग मोबाइल की व्यवस्था की गयी है। चुनाव सकुशल समपन्न करने के लिए 1 प्लाटून सीआरपीएफ, 2 प्लाटून पीएसी के साथ साथ पर्याप्त संख्या में सिविल पुलिस, महिला पुलिस की तैनाती की गयी है।

अयोध्या नगर निगम बनने के बाद मतदान को लेकर मतदाताओं में खासी जागरूकता है। अयोध्या नगर निगम बनने के बाद मतदान को लेकर मतदाताओं में खासी जागरूकता है।