--Advertisement--

नौकरी के नाम पर घूस लेने वाला कमर्चारी सस्पेंड, जांच रिपोर्ट आने के बाद दर्ज होगी FIR

प्रमुख सचिव के आदेश पर कर्मचारी को सस्पेंड कर उसके खिलाफ जांच कमेटी का गठन कर दिया है।

Dainik Bhaskar

Nov 17, 2017, 06:21 PM IST
मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने परिवार कल्याण महानिदेशालय के एक कर्मचारी को सस्पेंड करने का आदेश जारी किया है। मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने परिवार कल्याण महानिदेशालय के एक कर्मचारी को सस्पेंड करने का आदेश जारी किया है।

लखनऊ. यूपी के मातृ शिशु एवं परिवार कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने परिवार कल्याण महानिदेशालय के एक कर्मचारी को सस्पेंड करने का आदेश जारी किया है। बता दें, कर्मचारी पर मृतक आश्रितों की नियुक्ति के लिए रिश्वत लेने का आरोप लगा है। प्रमुख सचिव के आदेश पर कर्मचारी को सस्पेंड कर उसके खिलाफ जांच कमेटी का गठन कर दिया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। नौकरी के नाम पर मांगा था घूस...


- मृतक आश्रित कोटे में नौकरी के लिए एक कैंडिडेट्स श्वेता सिंह से परिवार कल्याण महानिदेशालय में काम कर रहे सीनियर असिस्टेंट रामकिशोर रावत ने जबरन एक लाख रुपये की रिश्वत ली। श्वेता ने 10 नवंबर को इसकी शिकायत स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह से की।- स्वास्थ्य मंत्री की जांच में सामने आया कि केवल श्वेता से ही नहीं, करीब दो दर्जन से ज्यादा अन्य कैंडिडेंट्स से भी नौकरी के लिए रिश्वत ली गई। मंत्री ने सीधे रामकिशोर रावत को फोन कर रिश्वत वापस करने को कहा।

- इस पर रावत श्वेता को दौड़कर बस अड्डे पर ही रकम पकड़ा आए। इसी बीच एक और कैंडिडेट्स नीलू सिंह से 30 हजार रुपये लिए जाने की बात सामने आई। रावत ने मंत्री के सामने नीलू से भी रिश्वत लेना कबूल किया।
- इस पर नीलू को भी रिश्वत की रकम वापस कराई गई। स्वास्थ्य मंत्री ने बुधवार को प्रमुख सचिव स्वास्थ्य प्रशांत त्रिवेदी को रिश्वतखोर कर्मचारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा के उसे जेल भेजने के निर्देश दिए हैं।


स्वास्थ्य विभाग का पक्ष
- यूपी के परिवार कल्याण महानिदेशालय के डायरेक्टर डॉ. नीना गुप्ता के मुताबिक़, मृतक आश्रित से नौकरी के नाम पर घूस मांगने वाले वाले कर्मचारी को सस्पेंड कर दिया गया है। उसके खिलाफ जांच के लिए कमेटी का गठन कर दिया गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने खुद घूस मांगने वाले कर्मचारी को फोन कर रिश्वत वापस करने की चेतावनी दी थी। मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने खुद घूस मांगने वाले कर्मचारी को फोन कर रिश्वत वापस करने की चेतावनी दी थी।
X
मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने परिवार कल्याण महानिदेशालय के एक कर्मचारी को सस्पेंड करने का आदेश जारी किया है।मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने परिवार कल्याण महानिदेशालय के एक कर्मचारी को सस्पेंड करने का आदेश जारी किया है।
मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने खुद घूस मांगने वाले कर्मचारी को फोन कर रिश्वत वापस करने की चेतावनी दी थी।मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने खुद घूस मांगने वाले कर्मचारी को फोन कर रिश्वत वापस करने की चेतावनी दी थी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..