Hindi News »Uttar Pradesh News »Lucknow News »News» Minister Rita Bahuguna Joshi Issued An Order To Suspend An Employee

नौकरी के नाम पर घूस लेने वाला कर्मचारी सस्पेंड, जांच रिपोर्ट आने के बाद दर्ज होगी FIR

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 18, 2017, 09:26 AM IST

प्रमुख सचिव के आदेश पर कर्मचारी को सस्पेंड कर उसके खिलाफ जांच कमेटी का गठन कर दिया है।
  • नौकरी के नाम पर घूस लेने वाला कर्मचारी सस्पेंड, जांच रिपोर्ट आने के बाद दर्ज होगी FIR
    +1और स्लाइड देखें
    मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने परिवार कल्याण महानिदेशालय के एक कर्मचारी को सस्पेंड करने का आदेश जारी किया है।

    लखनऊ. यूपी के मातृ शिशु एवं परिवार कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने परिवार कल्याण महानिदेशालय के एक कर्मचारी को सस्पेंड करने का आदेश जारी किया है। बता दें, कर्मचारी पर मृतक आश्रितों की नियुक्ति के लिए रिश्वत लेने का आरोप लगा है। प्रमुख सचिव के आदेश पर कर्मचारी को सस्पेंड कर उसके खिलाफ जांच कमेटी का गठन कर दिया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। नौकरी के नाम पर मांगा था घूस...


    - मृतक आश्रित कोटे में नौकरी के लिए एक कैंडिडेट्स श्वेता सिंह से परिवार कल्याण महानिदेशालय में काम कर रहे सीनियर असिस्टेंट रामकिशोर रावत ने जबरन एक लाख रुपये की रिश्वत ली। श्वेता ने 10 नवंबर को इसकी शिकायत स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह से की।- स्वास्थ्य मंत्री की जांच में सामने आया कि केवल श्वेता से ही नहीं, करीब दो दर्जन से ज्यादा अन्य कैंडिडेंट्स से भी नौकरी के लिए रिश्वत ली गई। मंत्री ने सीधे रामकिशोर रावत को फोन कर रिश्वत वापस करने को कहा।

    - इस पर रावत श्वेता को दौड़कर बस अड्डे पर ही रकम पकड़ा आए। इसी बीच एक और कैंडिडेट्स नीलू सिंह से 30 हजार रुपये लिए जाने की बात सामने आई। रावत ने मंत्री के सामने नीलू से भी रिश्वत लेना कबूल किया।
    - इस पर नीलू को भी रिश्वत की रकम वापस कराई गई। स्वास्थ्य मंत्री ने बुधवार को प्रमुख सचिव स्वास्थ्य प्रशांत त्रिवेदी को रिश्वतखोर कर्मचारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा के उसे जेल भेजने के निर्देश दिए हैं।


    स्वास्थ्य विभाग का पक्ष
    - यूपी के परिवार कल्याण महानिदेशालय के डायरेक्टर डॉ. नीना गुप्ता के मुताबिक़, मृतक आश्रित से नौकरी के नाम पर घूस मांगने वाले वाले कर्मचारी को सस्पेंड कर दिया गया है। उसके खिलाफ जांच के लिए कमेटी का गठन कर दिया गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

  • नौकरी के नाम पर घूस लेने वाला कर्मचारी सस्पेंड, जांच रिपोर्ट आने के बाद दर्ज होगी FIR
    +1और स्लाइड देखें
    मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने खुद घूस मांगने वाले कर्मचारी को फोन कर रिश्वत वापस करने की चेतावनी दी थी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Lucknow News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Minister Rita Bahuguna Joshi Issued An Order To Suspend An Employee
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×