Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Student Committed Suicides In Bareilly

बाप ताले में बंद रखता था खाने का सामान, भूख से तड़प रही बेटी ने की खुदकुशी

बरेली : पिता के व्यवहार से तंग युवती ने फांसी लगाकर की खुदकुशी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 16, 2017, 09:07 AM IST

बरेली। जिले के मुंशी नगर में शनिवार को एक युवती ने फांसी लगाकार आत्महत्या कर ली। बैंक पीओ की तैयारी कर रही छात्रा उर्वशी पासवान ने शनिवार रात साढ़े नौ बजे दुपट्टे से फंसी लगाकर खुदकुशी कर ली। शुरुआती जांच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट करे अनुसार उर्वशी ने कई दिनों से खाना नहीं खाया था। इसलिए भूखा रखता था पिता...

-एसपी सिटी रोहित सिंह ने बताया- "उर्वसी का पिता उसे भूखा रखता था। खाने का सारा सामान वो ताले में बंद करके रखता था। उसी वजह से युवती काफी कमजोर हो गई थी।"

-पुलिस को भी जांच में खाने का सारा सामान ताले में बंद मिला है। बहनों का आरोप है कि उसके पिता ने कई दिनों से उसे कुछ खाने-पीने को नहीं दिया था।
-रविवार को आई पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में भी इस बात का खुलासा हुआ था की युवती कई दिनों से भूखी थी।

बड़ी बहनों को बताया था दर्द
-पुलिस के मुताबिक योगेंद्र की तीन बेटियों में दो ने पिता से खिलाफत करते हुए प्रेम विवाह किया था। खुदकुशी के बाद दोनों बहनें पिता के घर पहुंची तो पुलिस के सामने पिता पर आरोपों की झड़ी लगा दी। बड़ी बेटी ने बताया- "शुक्रवार शाम को ही उर्वशी ने उसे फोन किया था। उसने रोते हुए कहा था, दीदी मैं कई दिनों से भूखी हूं.. कुछ रुपये दे जाओ। यहां खाने को कुछ नहीं है।
-उसने रोते हुए बताया कि घर में दो कुत्ते हैं, वे भी भूखे हैं। बड़ी बहन से मिले रुपये से उसने ब्रेड सहित कुछ सामान खरीदा था। बताया जा रहा है कि दोनों बेटियों के प्रेम विवाह के बाद पिता का गुस्सा उर्वशी पर उतर रहा था। वह बाहर जाते हुए उसको ताले में बंद कर जाते था।
-पुलिस ने उर्वशी का लैपटॉप कब्जे में ले लिया है। पुलिस को घटनास्थल पर संघर्ष का कोई निशान नहीं मिला है।

पिता ने किया इनकार
-पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद पिता ने कहा-"तीनों बेटियों को पढ़ा लिखाकर इस काबिल बनाया की वो अपने पैरों पर खड़ी हो सकें। भला कोई बाप अपनी बेटी को भूखा क्यों रखेगा।

बिहार में है मां

-उर्वसी की मां अभी बिहार में है। वहीं, बहनों द्वारा लिखित में शिकायत नहीं मिलने पर पुलिस ने आगे कोई कार्रवाई नहीं की है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×