--Advertisement--

न‍िकाय चुनाव 3rd फेज: आज 26 ज‍िलों में होगी वोट‍िंग, 5 नगर न‍िगम-76 पाल‍िका-152 पंचायते हैं शाम‍िल

लखनऊ: निकाय चुनाव के तीसरे फेज के लिए कुल 26 जिले के 233 नगरीय निकायों में चुनाव होना है।

Danik Bhaskar | Nov 29, 2017, 12:01 AM IST
सेकंड फेज में शामिल 5 नगर निगमों में से सभी पर बीजेपी का कब्जा है। -फाइल सेकंड फेज में शामिल 5 नगर निगमों में से सभी पर बीजेपी का कब्जा है। -फाइल

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव के तीसरे और अंतिम फेज के लिए वोटिंग खत्म हो गई है। तीसरे फेज में 26 जिलों के 233 नगरीय निकायों के लिए मतदान हुआ। निकाय चुनावों में कुल 52.5 फीसदी मतदान हुआ है। नगर निगम में 41.26 और नगर पंचायतों में 68.30 फीसदी मतदान हुआ है। राज्य चुनाव आयुक्त एसके अग्रवाल ने कहा- "निकाय चुनावों में राजधानी लखनऊ का प्रशासन सबसे नाकाबिल रहा। EVM में हुई गड़बड़ी को लेकर उन्होंने कहा कि ये हाइप बनाई गई है की EVM मशीनें खराब हैं।" जिम्मेदारी सिर्फ बीएलओ की नहीं, अफसरों की भी...

- वोटिंग पर्सेटेंज कम होने को लेकर राज्य निर्वाचन आयुक्त एस के अग्रवाल ने कहा, "मैं इसके लिए अफसरों से पूछताछ करुंगा। सिर्फ बीएलओ के खिलाफ एक्शन लेना गलत है। इसके लिए जिम्मेदार एसडीएम और एडीएम भी हैं। अगर एसडीएम से नहीं पूछा जाएगा, तो हम उनसे पूछेंगे। इस मामले में डीएम की जिम्मेदारी होती है।"

"नगर निगम को छोड़कर सभी जगह अच्छी वोटिंग हुई है। लखनऊ में वोटिंग नहीं कम हुई। लखनऊ के कमिश्नर को हमने जांच सौंप दी है। वो जानते हैं कि ये क्या हो रहा है।कमिश्नर की जांच से ये साफ हो जाएगा, नाम कटने की वजह से क्या है। अगर वोटर लिस्ट से जानबूझकर नाम कटा है, वो एक अपराध है।"

तीसरे चरण का वोटिंग प्रतिशत

- एटा 57.56%, औरैया 63.4%, कन्नौज 67.38%, कानपुर देहात 28.4%, चन्दौली 65.91%, जौनपुर 54.93%, झांसी 56.83%, फतेहपुर 26.77%, फिरोज़ाबाद 20.24%, बरेली 24.64%, बुलंदशहर 31.58%, बलरामपुर 57.05%, बागपत 29.36, बाराबंकी 30.08% और मऊ में 58.97% वोट डाले गए।

- वहीं, मुरादाबाद में 22.98%, महराजगंज 27.75%, महोबा 32.17%, मीरजापुर 56.87%, रायबरेली 25.34%, लखीमपुर खीरी 58.19 %, सम्भल 57.18% सहारनपुर 60.39 %, सिद्धार्थ नगर 24.36%, और सीतापुर में 29.26 वोटिंग हुई।

दूसरे चरण में ऐसा रहा वोटिंग प्रतिशत

- अम्बेडकर नगर 65.8%, अलीगढ़ 51.41%, इटावा 53.85%, इलाहाबाद 34.2%, गाजियाबाद 46.9%,

- देवरिया 62.18%, पीलीभीत 63.80%, फ़र्रुखाबाद 58.53%, बलिया 60.05%, बहराइच 54.80%,

- बांदा 63.64%, भदोही 64.23%, मुज़फ्फरनगर 63.86%, मथुरा 46.88%, मैनपुरी 58.68%,

- रामपुर 55.59%, लखनऊ 37.57%, ललितपुर 64.97%, बनारस 44.39%, श्रावस्ती 44.28%,

- संत कबीर नगर 67.59%, सुल्तानपुर 58.76%

- शाहजहांपुर 59.03%, गौतमबुद्धनगर 61.65%, अमरोहा 76.66%

इन जिलों में हुआ था मतदान

-लखनऊ, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, अमरोहा, रामपुर, पीलीभीत, शाहजहांपुर, अलीगढ़, मथुरा, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, इटावा, ललितपुर, बांदा, इलाहाबाद, सुल्तानपुर, अम्बेडकरनगर, बहराइच, श्रावस्ती, संतकबीरनगर, देवरिया, बलिया, वाराणसी, भदोही।

पहले चरण में ऐसा था वोटिंग प्रतिशत

-1st फेज में 24 जिलों में लगभग 53% वोट‍िंग हुई थी।

फर्स्ट फेज में 5 नगर निगम, 71 नगर पालिका परिषद

- शामली, मेरठ, हापुड़, बिजनौर, बदायूं, हाथरस, कासगंज, आगरा, कानपुर नगर, जालौन, हमीरपुर, चित्रकूट, कौशाम्बी, प्रतापगढ़, उन्नाव, हरदोई, अमेठी, फैजाबाद, गोंडा, बस्ती, गोरखपुर, आजमगढ़, गाजीपुर और सोनभद्र।
- पहले फेज में 5 नगर निगम मेरठ, आगरा, कानपुर नगर, फैजाबाद और गोरखपुर शामिल हैंं। इनके अलावा 71 नगर पालिका परिषद और 154 नगर पंचायतें हैं। इस तरह से पहले फेज में कुल 230 निकायों के 4095 वार्डों में वोटिंग हुई थी।

इसलिए है BJP पर दबाव

- 2012 में हुए 14 नगर निगम के मेयर पद के चुनावों में से 12 पर बीजेपी का कब्जा था। इलाहाबाद और रामपुर वह नहीं जीत पाई थी। उस वक्त राज्य में अखिलेश यादव की सरकार थी।
- इसके बाद लोकसभा चुनाव 2014 में बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिला था। उसे यूपी की 80 में से 73 सीटों पर जीत मिली।
- 2017 में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी को 403 सीटों में से 325 सीटें मिली थीं। इतनी बड़ी कामयाबी के बाद अब सीएम योगी आदित्यनाथ पर इन चुनावों में बढ़त बनाए रखना एक बड़ी चुनौती है।

- उधर, नगरीय निकाय चुनाव में सपा पहली बार मैदान में है। उससे बीजेपी को कड़ी टक्कर मिल रही है।

बड़ी पार्टियां अपने सिंबल पर लड़ रहीं चुनाव
- यूपी के निकाय चुनाव में पहली बार सभी बड़ी पार्टियां अपने सिंबल पर चुनाव लड़ रही हैं।
- आमतौर पर निकाय चुनाव में सीएम कैंपेन नहीं करते, लेकिन योगी आदित्यनाथ ने इसमें पूरी ताकत झोंकी है। उन्होंने कई रैलियां की हैं।

UP में कुल 652 नगरीय निकाय

- यूपी निकाय चुनाव 3 फेज में हुए हैं। यूपी में 652 नगरीय निकाय हैं। इनमें 16 नगर निगम, 198 नगर पालिका और 438 नगर पंचायतें शामिल हैं।

यूपी में सरकार बनाने से पहले बीजेपी नगरीय निकायों में हमेशा बहुमत में रही है। -सिम्बॉलिक इमेज यूपी में सरकार बनाने से पहले बीजेपी नगरीय निकायों में हमेशा बहुमत में रही है। -सिम्बॉलिक इमेज