CCTV ने पकड़वाए कार से नवजात को फेंकने वाले मां-बाप, उनका गुनाह-बच्ची को 'सजा'

dainikbhaskar.com | Jun 14,2018 15:31 PM IST

आखिरकार 6 मई को एक घर के बाहर पड़ी मिली नवजात 'सुनैना' के मां-बाप तक पुलिस पहुंच ही गई। यह घटना CCTV में कैप्चर हो गई थी। इसमें दिखी कार के नंबर के आधार पर पुलिस मां-बाप तक पहुंच गई। शादी से पहले बने फिजिकल रिलेशन इस बच्ची के लिए सजा बन गए।

नवजात बेटी को कार से फेंककर चली गई थी मां, 7 दिन बाद पति-पत्नी हुए गिरफ्तार; CCTV में कैद हुई थी घटना

DainikBhaskar.com | Jun 13,2018 17:45 PM IST

मुजफ्फरनगर कोतवाली क्षेत्र की मुस्तफा गली में बीते 6 जून को कार से आई एक महिला विंडो से बच्ची को एक दरवाजे की सीढ़ियों पर रखकर चली गई थी। इस दौरान महिला ने मुंह ढंका हुआ था। माना जा रहा था कि महिला बच्ची की मां रही होगी। जब बच्ची के रोने की आवाज लोगों को सुनाई पड़ी, तब वे बाहर निकले। मोहल्लेवालों ने तुरंत पुलिस को जानकारी दी। जब तक पुलिस मौके पर नहीं पहुंची, लोग बच्ची को लाड़-प्यार से गोद में खिलाते रहे। यह पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गयी थी। प्रशासन ने बच्ची का नाम सुनैना रखा है।

कारगिल की जंग में शहीद हुआ था लांसनायक पिता, बेटे ने लेफ्टिनेंट बनकर पूरी की अंतिम इच्छा

DainikBhaskar.com | Jun 11,2018 18:03 PM IST

कारगिल जंग में शहीद हुए मुजफ्फरनगर के लांसनायक शहीद बचन सिंह के बेटे हितेश कुमार ने सेना में लेफ्टिनेंट बनने के बाद अपने पिता को श्रद्धांजलि देने पहुंचे तो मुज़फ्फरनगर वासियो का सीना गर्व से चौड़ा हो गया। बड़ी बात यह है कि हितेश कुमार को उसकी पहली पसंद के अनुसार ही उनके पिता की सेकंड बटालियन राजपूताना रायफल्स में ही तैनाती मिली है।

जिस बटालियन में रहकर पिता ने दी थी शहादत, 19 साल बाद उसी में अफसर बना बेटा

DainikBhaskar.com | Jun 11,2018 17:21 PM IST

मुजफ्फरनगर (यूपी). 12 जून 1999 में मुजफ्फरनगर के रहने वाले दूसरी बटालियन के लांस नायक बचन सिंह कारगिल में दुश्मनों से लड़ते हुए शहीद हो गए थे। इस घटना के ठीक 19 साल बाद उनके बेटे हितेश कुमार सेना में लेफ्टिनेंट हैं। हितेश कुमार को उनके पिता की ही 2 बटालियन की राजपूताना रायफल्स में तैनात किया गया है। देहरादून की नेशनल डिफेंस एकेडमी में होने वाली पासिंग आउट परेड में उन्हें लेफ्टिनेंट के पद से नवाजा गया।