--Advertisement--

पति से हुआ झगड़ा तो पत्नी ने दो मासूमों सहित पिया जहरीला दूध, तीनो की हुई मौत

सोनू रिक्शा चलाकर परिवार का गुजर बसर करता है।

Danik Bhaskar | Jul 16, 2018, 12:15 PM IST

सहारनपुर. थाना जनकपुरी के गांव चकहरेटी में पति के पीटे जाने से क्षुब्ध महिला ने खुद जहरीला दूध पी लिया और अपने दो बच्चों को भी पिला दिया। तीनों की अस्पताल में मौत हो गई।

क्या है मामला
-थाना जनकपुरी क्षेत्र में जनता रोड पर पड़ने वाले गांव चकहरेटी मे सोनू रिक्शा चलाकर परिवार का गुजर बसर करता है। परिजनों का कहना है कि बच्चों में लड़ाई हुई तो सोनू ने अपने बेटे की पिटाई कर दी और बीच-बचाव को आई अपनी पत्नी लता 32 वर्ष को भी पीटा। इसी बात से गुस्सा होकर शनिवार की देर रात लता ने घर में दूध मे जहर मिलाकर पी लिया और अपने दो बेटों अभिजीत 3 वर्ष व वंश 2 वर्ष को भी जहरीला दूध पिला दिया। जब तीनों की हालत बिगड़ने लगी तो परिजनों को पता चला और देर रात तीनों को बिगड़ी हालत में जिला अस्पताल लाया गया। जहां से चिकित्सकों ने गंभीर हालत के चलते तीनो को हायर सेंटर रेफर कर दिया। परिजन उनको लेकर जोलीग्रांट पहुंचे। जहां उनकी मौत हो गयी।

तीसरे बेटे और भाई को भी पिलाना चाहती थी जहरीला दूध
-परिजनों ने बताया कि लता ने जब अपने दोनों बेटों को दूध पिला दिया तो अपने तीसरे बेटे अभिषेक और घर में साथ रहकर नाई का काम सीख रहे अपने भाई विशाल को भी दूध पीने को कहा। मगर इन दोनों ने ही दूध नहीं पिया और इससे उनकी जान बच गई। जब अभिषेक और विशाल ने दूध नहीं पिया तो रखा हुआ जहर मिला दूध बिल्ली पी गई। कुछ देर बाद ही बिल्ली की भी मौत हो गई।
-मृतका लता का मायका देहात कोतवाली के गांव शेखपुरा कदीम में है। घटना की सूचना मिलते ही देर रात मायके वाले भी गांव और अस्पताल पहुंच गए थे। फिर वही लता को देहरादून के जौलीग्रांट में लेते गए। परिवार के लोग सदमे में हैं कि लता ने क्यों इतना बड़ा घातक कदम उठा लिया।

क्या कहना है पुलिस का ?
-इंस्पेक्टर एसके दूबे ने बताया कि अपने दोनों बेटों के साथ जहर पीने वाली महिला और उसके दोनों बेटों की भी मौत हो गई है। अभी मामले में किसी तरह की कोई तहरीर नहीं मिली है।