--Advertisement--

छात्रा के एक बयान ने फैला दी यूपी पुलिस में सनसनी, नाना खुद सब इंस्पेक्टर

यहां 9वीं में पढ़ने वाली छात्रा के साथ गैंग रेप का मामला सामने आया है, हालांकि पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही।

Danik Bhaskar | Mar 09, 2018, 11:41 AM IST
पीड़ित ने दो लड़कों पर गैंग रे पीड़ित ने दो लड़कों पर गैंग रे

शाहजहांपुर, (उत्तरप्रदेश)। यहां 9वीं में पढ़ने वाली छात्रा के साथ गैंग रेप का मामला सामने आया है, हालांकि पुलिस इसकी पुष्टि नहीं कर रही। पीड़िता के नाना पुलिस विभाग में सब इंस्पेक्टर हैं। उनका आरोप है कि, उनकी नातिन का दूसरी बार भी किडनैप करके रेप करने की कोशिश की गई। इस मामले में जब वे पुलिस में शिकायत करने पहुंचे, तो उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया है। पुलिस ने अभी छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया है। जानें पूरा मामला...

-पीड़िता के मुताबिक 15 फरवरी को वह स्कूल गई थी। वापस घर आते वक्त रास्ते मे दो युवकों ने उसके रोका और जबरन स्कूटी पर बैठा लिया। उसके बाद नदी किनारे ले जाकर गैंगरेप किया। लड़की को धमकी दी गई कि अगर किसी को बताया तो पूरे परिवार को खत्म कर देंगे।
-पीड़िता के मुताबिक बुधवार की शाम को वह अपनी सहेली के साथ कोचिंग गई। वापसी में उन्ही युवकों ने फिर स्कूटी पर बैठाकर अपने साथ ले जाना चाहा। जब उसने विरोध किया, तो युवकों ने उसके साथ मारपीट की।
-उसी दौरान उसके मामा के दोस्त वहां से निकले, तब दोनों युवक फरार हो गए। इसके बाद उसने गैंगरेप के बारे परिजनों को बताया।
-पीड़िता का आरोप है कि जब वह थाने गई, तो एसएसआई सीपी त्रिपाठी ने उसको ये कहकर भगा दिया कि तुम्हारे साथ सिर्फ छेड़छाड़ हुई है, गैंगरेप नहीं हुआ है। जब पीङिता ने मेडिकल कराने के लिए कहा, तो पुलिस ने अस्पताल बंद होने का हवाला दिया। साथ ही कहा कि क्या युवकों को फांसी चढ़ा दें या फिर गोली मार दें।
-उधर, सीओ सिटी सुमित शुक्ला का कहना है कि पीड़ित परिवार ने छेड़छाड़ की शिकायत दी थी, उसी के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया था। अब मेडिकल के आधार पर धाराएं बढ़ाई जाएंगी।
-वहीं, डॉ. मेहराज अहमद के मुताबिक, छात्रा का मेडिकल किया है। उसके सीने और कंधे समेत हिप पर चोट के निशान हैं। लगता है कि उसके साथ मारपीट की गई है।