वाराणसी / पबजी फार्मूले पर दो छात्रों ने बनाई स्मॉर्ट आर्मी गन', 100 से 300 मीटर की दूरी तक भेदती है लक्ष्य



2 students upgraded pubgi game
X
2 students upgraded pubgi game

  • इसको बनाने में दो महीने लगे और 20 हजार रुपए से अधिक का खर्चा आया
  • बच्चों ने ग्राफिक्स के जरिए इसका डेमो भी तैयार किया है

Dainik Bhaskar

Aug 15, 2019, 01:08 PM IST

वाराणासी. यहां के सारनाथ इलाके में स्थित अशोक इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नालॉजी में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के दो छात्रों ने 15 अगस्त से पहले ही देश के वीर जवानों के लिए एक अनोखी स्मॉर्ट गन तैयार की है। महज 20 हजार रुपए खर्च करके बच्चों ने यह स्मॉर्ट आर्मी गन मशहूर गेम " पबजी" से आइडिया लेकर बनाई है। इसे स्मार्ट फोन से गेम खेलते हुए आसानी से रिमोट के जरिए ऑपरेट किया जा सकेगा। 2 महीने के मेहनत के बाद छात्रों द्वारा यह तैयार किया गया है। अब इसका डिजिटल परीक्षण भी किया जा रहा है। 

 

यहां के बड़ालालपुर के रहने वाले विशाल पटेल और सतेंद्र पटेल थर्ड ईयर मैकेनिकल के स्टूडेंट है। दोनों के पिता किसान है। पूरा प्रोजेक्ट दोनों ने रिसर्च एंड डेवलपमेंट इंचार्ज श्याम चौरसिया के देखरेख में बनाया है।

 

मेक इन इंडिया की तर्ज पर बनाया
विशाल पटेल ने बताया  इस मशीन को बनाने का आइडिया हो दोनों को  " पबजी" से आया है। इस पूरे सिस्टम को हम लोगों ने स्मॉर्ट आर्मी बबजी गेम का नाम दिया है। इसमें एक वायरलेस रिमोट है जिसे किसी भी स्मॉर्ट फोन से कनेक्ट कर ऑपरेट किया जा सकता है। इस मे कइ तरह के गन लगे होंगे, जिन्हें जरूरत के मुताबिक रिमोट कंट्रोल की सहायता से चेंज कर सकते हैं। मारक छमता 100 मिटर से 300 मीटर होगी। 

 

मशीन का वजन तकरीबन 35 से 40 किलोग्राम है। इसे 360 डिग्री में किसी भी दिशा में घुमा कर टार्गेट किया जा सकता है। सतेंद्र पटेल ने बताया कि  मशीन में पार्ट्स, 2 इंच पाइप, 12 बोल्ट की बैटरी, विडियो गेम का पार्टस, 2  कैमरे, बनाने का उद्देश्य अपने देश व जवानों के जान माल की रक्षा करने का है।

 

श्याम चौरसिया ने बताया जवानों की रक्षा के लिए कुछ करने की जिज्ञासा बचपन से मेरे मन में था। एक ऐसा सिस्टम तैयार किया जाए जिसकी मदद से बॉर्डर पर हमारे देश के जवान बिना जान गवांए सुरक्षित रह कर दुश्मनों व आतंकियों का सामना कर सकेंगे। दोनों ने आइडिया दिया और हमने मार्ग दर्शन के जरिए डमी " पबजी" बनवाया। इस गेम को मैंने indian bubg game का नाम दिया है।

गन को कैसे ऑपरेट किया जा सकेगा
इसमें रिमोट को मोबाइल से कनेक्ट किया गया हैं, जिससे आईपी कैमरा से हम दुश्मन पर नजर रखते हुए रिमोट से संचालित कर गोला फायर कर सकते हैं। सबसे पहले इस मशीन को हम अपने  बॉर्डर एरिया में इंस्टॉल कर देंगे। उसके बाद मशीन मे लगाए गए एंड्राइड मोबाइल को हम रिसीवर से अटैच कर आईपी कैमरा की मदद से कहीं से भी मशीन के आसपास निगरानी कर सकेंगे।

 

अपने मोबइल फोन तथा  ट्रांसमीटर की मदद से इस आर्मी  गेम को यूज कर बॉर्डर की रक्षा कर सकेंगे। इस मशीन मे गोलियों को लोड कर देने के बाद आप अपने मोबइल से अटैच कर ट्रांसमीटर की मदद से लाइव होकर एक रिएल गेम की तरह दुश्मन पर गोली चला सकते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना