Hindi News »Uttar Pradesh News »Varanasi News» Accused Sheikh Ali Akbar Court Gives Custody To UP ATS

बेटे पर लगा आतंकी होने का आरोप, मां बोली- इंटरव्यू देने गया था बेटा

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 07, 2018, 12:38 PM IST

गाजीपुर. कोर्ट ने एटीएस को अभियुक्त शेख अली अकबर की 10 दिनों की कस्टडी में सौंपने का आदेश दे दिया है।
  • बेटे पर लगा आतंकी होने का आरोप, मां बोली-  इंटरव्यू देने गया था बेटा
    +2और स्लाइड देखें
    रोते हुए मां बोली- बेटा कहकर निकला था कि लखनऊ में नौकरी के लिए इंटरव्यू देने जा रहा हूं। बाद में खबर आई कि बेटे को एटीएस ने गिरफ्तार किया है।

    गाजीपुर/लखनऊ (यूपी).कश्मीर के बांदीपुरा में अरेस्ट 4 आतंकियों के एक सहयोगी शेख अली अकबर को 10 दिन के लिए एटीएस (एंटी टेरेरिस्ट स्क्वायड) की कस्टडी में सौंपने का आदेश कोर्ट ने दिया है। यह आदेश मंगलवार को हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच की विशेष सीजेएम छवि अस्थाना ने विवेचक निवेश कटियार की अर्जी पर दिया है। बता दें, 5 फरवरी, 2018 को यूपी एटीएस ने सर्विलांस की मदद से लखनऊ के लोहिया पथ से शेख अली अकबर को अरेस्ट किया था।


    10 दिन की पुलिस कस्टडी में दिया जाए : कोर्ट
    - अभियुक्त को मंगलवार को कोर्ट में पेश किया गया। विशेष सीजेएम छवि अस्थाना ने विवेचक की अर्जी पर अभियुक्त को 10 दिन की एटीएस (एंटी टेरेरिस्ट स्क्वायड) की कस्टडी में सौंपने का आदेश दिया।
    - विवेचक ने अर्जी में कहा- ''अभियुक्त शेख अली अकबर से बरामद एक मोबाइल की फोरेंसिक जांच में करीब 4500 पेज का डाटा प्राप्त हुआ है। जिसका ऑब्जरवेशन करके प्राप्त तथ्यों के आधार पर सबूत जुटाने हैं।''
    - ''साथ ही अन्य अभियुक्तों को भी अरेस्ट करना है। जिसके लिए उप्र के विभिन्न स्थानों के अलावा जम्मू कश्मीर भी जाना पड़ सकता है। मामला नेशनल सिक्युरिटी से जुड़ा है और इस मामले का नेटवर्क भारत व पाकिस्तान में है। इसलिए देश की अन्य सुरक्षा एंजेसियों से भी इस मामले में तथ्य प्राप्त करना है। लिहाजा इसे 10 दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड में दिया जाए।''

    5 फरवरी को यूपी ATS ने किया था अरेस्ट

    - 5 फरवरी, 2018 को कश्मीर के बांदीपुरा में गिरफ्तार 4 आतंकियों के एक सहयोगी शेख अली अकबर को यूपी एटीएस ने लखनऊ के लोहिया पथ से अरेस्ट किया। आतंकी को सर्विलांस की मदद से पकड़ा गया था।
    - एटीएस के पुलिस उपाधीक्षक विजयमल यादव ने इस मामले की एफआईआर थाना एटीएस वाराणसी में दर्ज कराई थी। जिसमें शेख अली अकबर के अलावा दो अन्य अभियुक्त रियाज व बकार को भी नामजद किया गया है।
    - एफआईआर के मुताबिक, अभियुक्त व्हाट्सएप के जरिए आतंकी व जेहादियों के सम्पर्क में था। उनसे धन मंगाकर आतंकी व जेहादी संगठनों का सदस्य होने का प्रयास कर रहा था।

    क्या कहना था एटीएस का ?

    - एटीएस आईजी असीम अरुण ने बताया था, ''शेख अली अकबर आतंकियों को 40 हजार रुपए में पिस्टल बेचने का काम कर रहा था। ये 9 ऐसे सोशल मीडिया ग्रुप से जुड़ा है, जो देश में जेहाद फैलाने का काम करते हैं। इसके साथ ही कई आतंकी संगठन के ग्रुप से भी जुड़ा है। सितंबर, 2017 में उसके पास व्हाट्सएप पर कश्मीर में ट्रेनिंग करने का ऑफर भी आया था।''


    मां बोली- मेरा बेटा नहीं कर सकता ऐसा काम

    - शेख अली अकबर(23) गाजीपुर के थाना जमननया के कसेरा पोखरा गांव का रहने वाला है। परिवार में मां शबनम, भाई कौशर है।
    - 7 साल पहले पिता की मौत हो चुकी है। वो आर्मी में नायब सूबेदार थे, जो साल 1991 में ही सेना से सेवानिवृत्त हुए थे।
    - मां शबनम ने बताया, ''मेरे और मेरे बच्चों का हुलिया ऐसा है कि लोग हमें कश्मीरी समझ लेते हैं। गांव के लोग कश्मीरी-कश्मीरी ही कहते थे। जबकि मेरा मायका चंदौली जनपद के धानापुर क्षेत्र में है।''
    - ''मुझे और परिवार में किसी को भी नहीं पता कि अकबर ने ऐसा क्या किया है कि उसे आतंकवादी बताया जा रहा है। मेरा बेटा अकबर बेगुनाह साबित होगा। घर से 4 फरवरी को बेटा कहकर निकला था कि लखनऊ में नौकरी के लिए इंटरव्यू देने जा रहा हूं। वहीं रह रहे अपने चाचा के लिए चावल भी लेकर गया था।''
    - ''वहां पंहुचने के बाद कहां चला गया किसी को कुछ पता नहीं चला। बाद में खबर आई कि बेटे को एटीएस ने गिरफ्तार किया है। मुझे पूरा विश्वास है कि मेरा बेटा देश के खिलाफ नहीं जा सकता।''
    - वहीं, अकबर के भाई ने बताया, ''मेरा भार्इ ऐसा काम नहीं कर सकता उसे फंसाया गया है।

    पॉस्को एक्ट में भी जेल जा चुका है अकबर

    - बताया जाता है कि करीब 2 साल पहले पूर्व गांव के ही एक दूसरे समुदाय की नाबालिग लड़की के साथ रेप की कोशिश के आरोप में अकबर जेल की हवा खा चुका था।
    - हालांकि बाद में पीड़ित पक्ष से सुलह समझौता हो जाने के बाद जेल से बाहर आ गया था।

  • बेटे पर लगा आतंकी होने का आरोप, मां बोली-  इंटरव्यू देने गया था बेटा
    +2और स्लाइड देखें
    5 फरवरी, 2018 को यूपी एटीएस ने सर्विलांस की मदद से शेख अली अकबर को अरेस्ट किया था।
  • बेटे पर लगा आतंकी होने का आरोप, मां बोली-  इंटरव्यू देने गया था बेटा
    +2और स्लाइड देखें
    कोर्ट ने अभियुक्त को 10 दिन के लिए एटीएस की कस्टडी में सौंपने का आदेश दिया है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Varanasi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Accused Sheikh Ali Akbar Court Gives Custody To UP ATS
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Varanasi

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×