--Advertisement--

बलिया: सूदखोरों ने दलित महिला को जिंदा जलाया, कर्ज में लिए थे 2 हजार रुपए

पीड़िता की बेटी ने बताया कि मां ने दो हजार रूपए का कर्ज लिया था।

Danik Bhaskar | Mar 09, 2018, 12:55 PM IST
हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से महिला को अस्पताल में भर्ती कराया। हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से महिला को अस्पताल में भर्ती कराया।

बलिया. जिले के भीमपुरा थाना क्षेत्र के जजौली गांव में गुरुवार को जहां विश्व महिला दिवस मनाया जा रहा था वहीं रात को सूदखोरों ने 40 वर्षीय एक दलित महिला को जिंदा जलाया दिया। महिला को जिला अस्पताल बलिया से वाराणसी के बीएचयू के लिए रेफर कर दिया गया है। महिला की बेटी ने बताया कि सूदखोर शुड्डू सिंह व सोनू सिंह ने रात में मेरी मां को जिंदा जला दिया। उसने बताया कि मां बाहर बरामदे में सोई थी उसी समय यो दोनों पहुंचे और आग लगा दी। उसकी चीख सुनकर मैं कमरे से बाहर आयी तो देखा मां तड़प रही थी।

- कैरोसिन आस-पास गिरा हुआ था। चीख सुनकर गांव वाले भी मौके पर पहुंचे और कंबल डालकर मां को बचाया। बेटी ने बताया कि मां ने 2000 हजार रुपया कर्जा लिया था। कई महीने से कर्ज न भर पाने के कारण सूद बढ़ता जा रहा था। दोनों ने शाम को मां को धमकाया भी था।


क्या कहना है पुलिस का

- एसपी अनिल कुमार ने बताया दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि मामला पैसों के लेन देन का लगता है। पीड़िता के दो बेटे और चार बेटियां है। घटना की रात मझली बेटी निधि अंदर कमरे में सोयी थी।
- मामले में मुकदमा पंजीकृत कर तफ्तीश शुरू कर दी गई है। एसपी बलिया ने बताया कि एक घंटे के भीतर ही पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।