--Advertisement--

बलिया: मिड डे मील के लिए बन रही थी खि‍चड़ी, बर्तन में गिरी बच्ची

बलिया. यहां एक प्राइमरी पाठशाला में मिड डे मील के लिए बन रही खि‍चड़ी के टब में मासूम बच्ची गिर गई। वह बुरी तरह जल गई है।

Danik Bhaskar | Dec 17, 2017, 01:18 PM IST
स्कूल की नापरवाही की वजह से खौ स्कूल की नापरवाही की वजह से खौ

बलिया (यूपी). यहां के बासडीह थाना इलाके में शनिवार को प्राथमिक स्कूल में लापरवाही की वजह से मिड-डे मील के लिए बन रही खिचड़ी में चार साल की मासूम गिर गई। टीचर और खाना बनाने वाले ने बच्ची को बाहर निकाला और कपड़े उतार कर इलाज के बजाए घर भेज दिया। पिता ओमप्रकाश पांडेय ने तुरंत बच्ची को डि‍स्ट्रि‍क्ट हॉस्पिटल में एडमिट कराया। डॉक्टर्स के मुताबिक, बच्ची के पीठ का 40 परसेंट हिस्सा और हाथ जल गया है।

प्रिंसिपल सस्पेंड, शि‍क्षा अधि‍कारी को सौंपी गई जांच

- बीएसए संतोष कुमार ने बताया, ''ग्राम प्रधान ने मामले की जानकारी दी है। शिक्षा अधिकारी को मामले की जांच सौंप दी गई है और स्पॉट पर भेजा गया था। बच्ची के इलाज की व्यवस्था की गई है।''
- ''स्कूल के प्रिंसि‍पल मनीष सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। वहीं दो टीचर और खाना बनाने वाले को नोटि‍स भेजा है। यही नहीं, इस मामले में सबसे बड़ी लापरवाही आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों और सहायिकाओं को मानते हुए बीएसए ने डीपीओ को लेटर भेजकर उनके खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है।''
- प्रधान के प्रतिनिधि राजकुमार पाठक ने बताया, ''स्कूल का कोई भी व्यक्ति बच्ची को हॉस्पिटल तक नहीं लाया। कपड़ा खोलकर बच्ची को घर भेज दिया गया।''
- पिता ओमप्रकाश ने बताया, ''दाई बच्ची को लेकर आई, उसको घर के बजाए हॉस्पिटल ले जाना चाहिए था। बाद में भी कोई टीचर नहीं आया।''