--Advertisement--

CM योगी के स्वागत में लगे थे गमले, जाते ही यूं 5 मिनट में हो गए गायब

वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए परिसर को कार्पेट और फूलों के गमलों से सजाया गया था।

Dainik Bhaskar

Jan 05, 2018, 09:37 PM IST
शुक्रवार को सीएम योगी जिले के सभी अधिकारीयों के साथ मीटिंग करने कमिश्नरी सभागार पहुंचे थे। शुक्रवार को सीएम योगी जिले के सभी अधिकारीयों के साथ मीटिंग करने कमिश्नरी सभागार पहुंचे थे।

वाराणसी. सीएम योगी अपने दो द‍िवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे हुए हैं। शुक्रवार को सीएम जिले के सभी विभागों के अधिकारीयों के साथ मीटिंग करने कमिश्नरी सभागार पहुंचे थे। इस दौरान वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए परिसर को कार्पेट और फूलों के गमलों से सजाया गया था। मीटिंग समाप्त होने के बाद जैसे ही सीएम योगी वहां से गए, 5 मिनट बाद सभी गमलों को लोग सरकारी गाड़ी में भरने लगे। ये वजह थी गमलें हटाने की...

- दरअसल, कमिश्नरी में सीएम और जिलें के अधिकारियों की मीटिंग होनी थी। जिस वजह से पूर परिसर को गमलों से सजाया गया था।
- वहीं, मीटिंग होने के बाद सीएम योगी का वहां से जाते ही महज 5 मिनट बाद ही कुछ लोग गमले को यूपी सरकार की एक जीप में भरने लगे।
- कर्मचारियों ने बताया कि गमले सीएम योगी के मीटिंग के आगवानी में सजाने को लगाया गया था। अब वापस जहां से आया था वहीं पहुंचा दिया जाएगा।
- सर्किट हाउस इंचार्ज राजेंद्र सिंह ने बताया यहां गमलों में पानी डालने में दिक्कत होगी। जो गमले पहले से कमिश्नरी में लगा हुआ था, वह यहीं रहेगा। जितने गमले सर्किट हाउस के थे, वो वापस जा रहे हैं।

सीएम ने देर रात यहां क‍िया न‍िरीक्षण

# शेल्टर होम

-यहां सीएम ने नगर आयुक्त डॉ. नितिन बंसल को बुलाकर पूछा, शौचालय चेक करते हो, जवाब म‍िला- जी, सर।

-अलाव कितने जगह जल रहे हैं?- 300 जगहों पर।

# भारत माता मंद‍िर

-भारत माता मंदिर में सड़क पर उखड़े पड़े ईंटों पर सीएम ने नगर आयुक्त का क्लास ल‍िया।
-उन्होंने पूछा, ईंट ठीक से क्यों नहीं बिछी है, कब काम हुआ ये सब। लाइटें जो सड़क के किनारे लगी हैं ये कब तक चालू हो जाएंगे?

# दीनापुर में निर्माणाधीन सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का निरीक्षण किया

-उन्होंने सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट को युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर शीघ्र पूरा कराए जाने के ल‍िए गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई के अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए।

#मंडुआडीह पुल का किया निरीक्षण

#गोदौलिया पर विश्वनाथ मंदिर इलाके का भी जायजा ल‍िया।

#दशाश्वमेघ का में औचक निरिक्षण किया।

मीटिंग होने के बाद सीएम योगी का वहां से जाते ही महज 5 मिनट बाद ही कुछ लोग गमले को यूपी सरकार की एक जीप में भरने लगे। मीटिंग होने के बाद सीएम योगी का वहां से जाते ही महज 5 मिनट बाद ही कुछ लोग गमले को यूपी सरकार की एक जीप में भरने लगे।
वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए परिसर को कार्पेट और फूलों के गमलों से सजाया गया था। वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए परिसर को कार्पेट और फूलों के गमलों से सजाया गया था।
कर्मचारियों ने बताया कि गमले सीएम योगी के मीटिंग के आगवानी में सजाने को लगाया गया था। अब वापस जहां से आया था वहीं पहुंचा दिया जाएगा। कर्मचारियों ने बताया कि गमले सीएम योगी के मीटिंग के आगवानी में सजाने को लगाया गया था। अब वापस जहां से आया था वहीं पहुंचा दिया जाएगा।
सड़क पर सही से ईंट न ब‍िछने पर सीएम ने अफसरों की क्लास लगाई। सड़क पर सही से ईंट न ब‍िछने पर सीएम ने अफसरों की क्लास लगाई।
X
शुक्रवार को सीएम योगी जिले के सभी अधिकारीयों के साथ मीटिंग करने कमिश्नरी सभागार पहुंचे थे।शुक्रवार को सीएम योगी जिले के सभी अधिकारीयों के साथ मीटिंग करने कमिश्नरी सभागार पहुंचे थे।
मीटिंग होने के बाद सीएम योगी का वहां से जाते ही महज 5 मिनट बाद ही कुछ लोग गमले को यूपी सरकार की एक जीप में भरने लगे।मीटिंग होने के बाद सीएम योगी का वहां से जाते ही महज 5 मिनट बाद ही कुछ लोग गमले को यूपी सरकार की एक जीप में भरने लगे।
वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए परिसर को कार्पेट और फूलों के गमलों से सजाया गया था।वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए परिसर को कार्पेट और फूलों के गमलों से सजाया गया था।
कर्मचारियों ने बताया कि गमले सीएम योगी के मीटिंग के आगवानी में सजाने को लगाया गया था। अब वापस जहां से आया था वहीं पहुंचा दिया जाएगा।कर्मचारियों ने बताया कि गमले सीएम योगी के मीटिंग के आगवानी में सजाने को लगाया गया था। अब वापस जहां से आया था वहीं पहुंचा दिया जाएगा।
सड़क पर सही से ईंट न ब‍िछने पर सीएम ने अफसरों की क्लास लगाई।सड़क पर सही से ईंट न ब‍िछने पर सीएम ने अफसरों की क्लास लगाई।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..