--Advertisement--

इस मैच में Pak जासूस बना अंपायर, तो वाइफ का मर्डर करने वाला चीयर ब्वॉय

वाराणसी के जेल में पुलिस प्रशासन क्रिकेट मैच करवा रहा है।

Danik Bhaskar | Jan 27, 2018, 06:20 PM IST

वाराणसी (यूपी). यहां शनिवार को सेंट्रल जेल शिवपुर में 12 दिनों का जेपीएल 20-20 टूर्नामेंट शुरू हो गया है। जिसमे 2 टीमें जेल की और बाकी आठ टीमें ऐसी संस्थाओं की है, जो जेल पर काम करती है। खास बात ये है कि जेल की एक टीम में सजा काट रहा श्रीलंका का बंदी चंदू भी है और जासूसी के आरोप में बंद अंपायरिंग करने वाला पाकिस्तानी कैदी जलालुद्दीन भी है। एनआरआई कैदी चीयर बॉय बने है, जो म्यूजिक प्ले कर रहे है।

क्रिकेट का रहता है इंतजार...

- सीजीएम अभय श्रीवास्तव ने कहा, ''ये टूर्नामेंट का तीसरा एडिशन है। करीब 12 दिनों तक मैच होगा, कैदी डिफरेंट पार्ट्स के है, एक कैदी बाहर से भी है। मैच खेलने के लिए कैदियों को इस पल का साल भर इंतजार रहता है। यूनिटी और स्प्रिट देखने को मिलता है।''
- केंद्रीय कारागार के वरिष्ठ जेल अधीक्षक अम्बरीश गोंड ने कहा, ''कैदी जेल के अन्दर समाज से कटे रहते हैं। क्रिकेट मैच बहुत पापुलर खेल है। जलालुद्दीन पाकिस्तान का रहने वाला है जो इम्पायर की भूमिका में है।''

ऐसे कैदी खेल रहे मैच
- अपनी पत्नी की हत्या के जुर्म में सज़ा काट रहा ब्रिटेन एनआरआई अनुराग जौहरी गिटार बजाकर और चीयरलीडर बॉय बनकर लोगों का मनोरंजन कर रहा है। लखनऊ के रहने वाला अनुराग 2005 में ब्रिटेन में विवादों के चलते पत्नी की हत्या कर दी थी।
- ब्रिटेन में सजा पाने के दौरान उसने बाकी की सजा भारत में काटने की गुजारिश की थी। जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर उसे वाराणसी जेल में रखा है।
- जलालुद्दीन पाकिस्तान का रहने वाला है। 2001 में उसे कैंटोनमेंट क्षेत्र पकड़ा गया था। उसके पास से बनारस के अलग अलग प्रतिबंधित स्थानों के नक्से और दस्तावेज मिले थे। कोर्ट में पाकिस्तानी एजेंट-जासूस होने का आरोप लगा था। प्रूफ होने के बाद उसे सजा हुई।