Hindi News »Uttar Pradesh »Varanasi» Dalai Lama Five Days Visit In Varanasi

वाराणसी में 5 द‍िन रहेंगे दलाई लामा-ड्रोन से होगी निगरानी, ये है प्रोग्राम

वाराणसी. दलाई लामा शुक्रवार को पांच दिवसीय दौरे पर सारनाथ पहुंच रहे हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 29, 2017, 10:48 AM IST

वाराणसी.यहां शुक्रवार को परम पावन दलाई लामा अपने 5 दिवसीय दौरे पर सारनाथ पहुंचे है। इस दौरान उनका तिब्बती यूनिवर्सिटी में परंपरागत वाद्ययंत्र ताशी शेरपा बजाकर स्वागत किया गया। तिब्बती परंपरा के अनुसार शुभ कार्य में पेश किया जाने वाला तसंपा और जूस भेंट किया गया। उनकी अगवानी प्रोफेसर नवांग समतेन और तिब्बत के निर्वाचित राष्ट्रपति लोबसांग सांगे ने खाता भेंट करके के किया।तिब्बती तांत्रिक मंत्रो से बांधा है पुरा पंडाल...

- दलाई लामा यहां दो दिवसीय इंटरनेशनल सेमिनार और 1 जनवरी को होने वाले स्वर्ण जयंती समारोह का उद्धघाटन करेंगे। इसमे देश-विदेश के 200 डेलीगेट्स सहित 2000 लोग भाग लेंगे।
- इस बार उनकी सुरक्षा व्यवस्था दृश्य शक्तियों के लिए कमांडो और अदृश्य शक्तियों के लिए पुरे पंडाल को तिब्बती तांत्रिक मंत्रो से बांधा गया है, जिससे इनकी नकारत्मक शक्तियों से सुरक्षा हो सके।

- दलाई लामा के वेलकम के लिए तिब्बतियन यूनिवर्सिटी को दुल्हन की तरह सजाया गया है। पंडाल में जहां दलाई लामा बैठेंगे, उसके ठीक पीछे भगवान बुद्ध की तस्वीर लगाई गई है।
- बुद्ध की तस्वीर के दाहिने नागार्जुन व बायें बौद्ध विद्वान् आसंग की तस्वीर लगाई गई है। लगभग 1008 लुंगता पर अवलेकेश्वर, मंजुश्री, वज्रयानी व भगवान बुद्ध के मंत्र लिखे हैं। पंडाल में जगह-जगह टांगा गया है। इसके साथ ही पंडाल में प्राचीन नालंदा के 17 बौद्ध विद्वानों की तस्वीर लगाई गई है।

आगमन को लेकर लोगों में उत्साह का माहौल

- परम पावन के दौरे को लेकर तिब्बती संस्था के मुख्य द्वार से लेकर सभा स्थल तक सड़क पर शुभांकर बनाए गए थे।
- वहीं, उनके आगमन को लेकर सुबह से ही तिब्बती संस्थान के बाहर सैकड़ो की संख्या में नार्थ ईस्ट के लोगों का जमावड़ा लगा हुआ था। संस्थान के छात्रों में दलाई लामा के आगमन को लेकर उत्साह का माहौल है।
- इस अवसर पर तिब्बत, लद्दाख, स्पीति, कुल्लू, मनाली, नेपाल समेत देश के विभिन्न प्रांतो से अनुयाई आये हुए हैं। ये अपने परंपरागत ड्रेस छुप्पा, जूता-सोंपा पहने हुए नजर आए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Varanasi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×