--Advertisement--

जवान का पार्थिव शरीर पहुंचा घर, लोगों ने लगाए पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

पाकिस्तान की ओर से अंतरराष्ट्रीय सीमा और निंयत्रण रेखा पर लगातार हुई फायरिंग में शनिवार देर रात चंदौली के जवान चंदन राय

Danik Bhaskar | Jan 22, 2018, 11:54 AM IST
20 जनवरी को जम्मू-कश्मीर के राजौ 20 जनवरी को जम्मू-कश्मीर के राजौ

चंदौली (यूपी). जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में पाकिस्तान की तरफ से हुई फायरिंग में शनिवार को यूपी के चंदौली जिले के रहने वाले जवान चंदन राय शहीद हो गए। सोमवार को पार्थिव शरीर उनके घर पहुंचा। हजारों की संख्या में अंति‍म दर्शन को जुटे लोगों ने 'पाकिस्तान मुर्दाबाद', 'शहीद अमर रहें', 'वंदे मातरम' का नारा लगाया। शहीद के पिता और भाई ने होम मिन‍िस्टर राजनाथ सिंह और सीएम योगी के आने की मांग की। हालांकि, प्रशासन के अधि‍कार‍ियों के मान-मनौव्वल के बाद शहीद का अंति‍म संस्कार किया गया। प‍िता सत्यप्रकाश राय ने बेटे को मुखाग्नि दी।

2011 में हुई थी कॉस्टेबल के पद पर भर्ती


- चंदन राय 2011 में कॉन्टेबल के पद पर भर्ती हुए थे।
- 2014 से ही उनकी पोस्टिंग जम्मू-कश्मीर में थी। वर्तमान में वह राजौरी के पूंछ सेक्टर में तैनात थे।

- 20 जनवरी (शन‍िवार) को पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी कॉन्स्टेबल चंदन राय गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उनकी मौत हो गई।

'पाकिस्तान मुर्दाबाद' के लगे नारे

- बता दें, शहीद के अंति‍म दर्शन को गांव में हजारों की संख्या में लोग पहुंचे हैं।

- लोगों ने जमकर 'पाकिस्तान मुर्दाबाद' के नारे लगाए और जमकर पाकिस्तान को कोसा।

- इसके अलावा तिरंगा लहराते हुए 'शहीद अमर रहें' और 'वंदे मातरम' का नारा लगाया।

भाई ने की राजनाथ सिंह और योगी आदित्यनाथ को बुलाने की मांग

- सोमवार को शहीद का पार्थि‍व शरीर उनके घर चंदौली पहुंचा। पिता और भाई ने सीएम योगी और होम मिन‍िस्टर राजनाथ सिंह को बुलाने की मांग।

- भाई ने कहा, '' जब तक दोनों नहीं आएंगे, तब तक शहीद का अंति‍म संस्कार नहीं होने देंगे।''

20 अप्रैल को होनी थी शादी

- शहीद चंदन राय की 20 अप्रैल को शादी होने वाली थी। 20 फरवरी को तिलक था, जिसके ल‍िए वह 15 फरवरी को छुट्टी पर घर आने वाले थे।

- शहीद चंदन राय के परिवार में चार भाई और तीन बहनों में तीसरे नंबर के थे। घटना के बाद से पूरा परिवार सदमे में है।