--Advertisement--

ट्रेन में दूसरे के रिजर्वेशन पर न करें यात्रा, हो सकता है 10 लाख रुपए का नुकसान

रेलवे के हर र‍िजर्वेशन टि‍कट पर पैसेंजर का 10 लाख रुपए का इन्श्योरेंस होता है।

Danik Bhaskar | Dec 15, 2017, 12:05 AM IST

वाराणसी. रेलवे ने 31 अगस्त 2017 से एक नई इन्श्योरेंस स्कीम शुरू की थी, जिसमें रिजर्वेशन के हर टि‍कट पर प्रति व्यक्ति एक रुपए का प्रीमि‍यम फिक्स किया गया है। इसके तहत हर पैसेंजर का 10 लाख रुपए का इन्श्योरेंस होता है। हालांकि, अभी भी कई लोग इस स्कीम से अवेयर नहीं हैं। ऐसे में DainikBhaskar.com अवेयरनेस के लिए आपको स्कीम, इसके फायदे बता रहा है। बता दें, अगर आप दूसरे के रिजर्वेशन टि‍कट पर ट्रैवेल कर रहे हैं तो आपको ये बेनिफि‍ट नहीं मिलेगा।

पढ़ें, क्या है रेलवे की स्कीम ?

- पूर्वोत्तर रेलवे के पीआरओ अशोक कुमार ने बताया, ''रेलवे हर यात्री के रिजर्वेशन टिकट पर एक रुपए के प्रीमियम पर 10 लाख का इन्श्योरेंस कर रहा है। ये स्कीम कैशलेश ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए 31 अगस्त 2017 से लागू किया है। इन्श्योरेंस केवल ऑनलाइन बुकिंग पर ही मिलता है।''
- ''रिजर्वेशन के हर टिकट पर प्रति व्यक्ति एक रुपए का प्रीमियम फिक्स किया है, जो हिडेन होता है। इसके एवज में हर यात्री का 10 लाख का इन्श्योरेंस होता है।''
- सीआरएस (कमीशन ऑफ रेलवे सेफ्टी) विमल पांडेय ने बताया, ''ये स्कीम रिजर्वेशन की हर कैटेगरी स्लीपर से फर्स्ट एसी तक की सभी दरें एक और प्रीमियम 92 पैसे पर होती है।''

आगे की स्लाइड्स में इन्फोग्राफि‍क्स में पढ़ें किन आधार पर मिलता है क्लेम और क्या बरतें सावधान‍ियां...