Hindi News »Uttar Pradesh »Varanasi» Story About Marine Engineer Santosh Bharadwaj

कुत्ते-बंदर का मांस खाते थे समुद्री डाकू, चंगुल में फंसे शख्स ने बताई ये बातें

काशी के शि‍वपुर में रहने वाली महिला ममता ने विदेश मंत्री को ट्वीट कर पति को नाइजीरिया से छुड़ाने की मांग की है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 21, 2017, 04:34 PM IST

    • वाराणसी. काशी के शि‍वपुर में रहने वाली महिला ममता ने विदेश मंत्री को ट्वीट कर पति को नाइजीरिया से छुड़ाने की मांग की है। इस पर सुषमा स्वराज ने रिप्लाई करते हुए कहा कि जल्द ही अधि‍कारी कॉन्टेक्ट करेंगे। फि‍लहाल, महिला मीडि‍या के सामने आने को तैयार नहीं है। DainikBhaskar.com बनारस के ही रहने वाले संतोष भारद्वाज की कहानी बता रहा है, जो 47 दिनों तक नाइजीरिया में समुंद्री डाकुओं के चंगुल में थे।

      फि‍रौती की रकम के लिए किया था किडनैप

      - बता दें, संतोष और उनके चार साथियों को नाइजीरियन शिप पोर्ट से 50 किमी दूर समुद्री लुटेरों के एक गैंग ने 25 मार्च 2016 की रात बंधक बना लिया था।
      - संतोष एक शिप कंपनी में नौकरी करते थे। फिरौती की रकम के लिए लुटेरे उन लोगों को किसी सुनसान टापू पर लेकर गए थे।

      - उन्हें फॉरेन मिनिस्ट्री और भारत सरकार की हेल्प से 12 मई 2016 को छुड़ा लिया गया था।

    • कुत्ते-बंदर का मांस खाते थे समुद्री डाकू, चंगुल में फंसे शख्स ने बताई ये बातें
      +6और स्लाइड देखें
    • कुत्ते-बंदर का मांस खाते थे समुद्री डाकू, चंगुल में फंसे शख्स ने बताई ये बातें
      +6और स्लाइड देखें
    • कुत्ते-बंदर का मांस खाते थे समुद्री डाकू, चंगुल में फंसे शख्स ने बताई ये बातें
      +6और स्लाइड देखें
    • कुत्ते-बंदर का मांस खाते थे समुद्री डाकू, चंगुल में फंसे शख्स ने बताई ये बातें
      +6और स्लाइड देखें
    • कुत्ते-बंदर का मांस खाते थे समुद्री डाकू, चंगुल में फंसे शख्स ने बताई ये बातें
      +6और स्लाइड देखें
    • कुत्ते-बंदर का मांस खाते थे समुद्री डाकू, चंगुल में फंसे शख्स ने बताई ये बातें
      +6और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Varanasi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Story About Marine Engineer Santosh Bharadwaj
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From Varanasi

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×