Hindi News »Uttar Pradesh »Varanasi» Manoj Sinha Gives Scholarship To Student In Ghazipur

मोदी के मंत्री ने फुटपाथ पर लड़की को लगाया गले, पढ़ें इंस्पायरिंग स्टोरी

गाजीपुर (यूपी). यहां चाय बेचने वाली एक लड़की को मोदी के मंत्री मनोज सिन्हा का गले लगाना चर्चा में है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 26, 2017, 07:38 PM IST

  • मोदी के मंत्री ने फुटपाथ पर लड़की को लगाया गले, पढ़ें इंस्पायरिंग स्टोरी
    +4और स्लाइड देखें
    मनोज स‍िन्हा ने फुटपाथ पर चाय बेचने वाली छात्रा को लगाया गले।

    गाजीपुर (यूपी). यहां चाय बेचने वाली एक लड़की को मोदी के मंत्री मनोज सिन्हा का गले लगाना चर्चा में है। दरअसल, लड़की फुटपाथ पर ठेला लगाकर चाय बेचती है और इसी पैसों से बीमार मां-बाप और दो छोटे भाईयों की परवरिश भी कर रही है। DainikBhaskar.com ने बीकॉम कर चुकी आरती से बातचीत की तो पता चला कि मनोज सिन्हा बीते शनिवार को अफीम फैक्ट्री के गेस्ट हाउस में ठहरे थे, निकलते समय आरती की हिम्मत देखकर वो फुटपाथ पर चाय की दुकान पर रुके और उसे गले लगा लिया।

    दो साल से संभाल रही पिता की चाय की दुकान


    - आरती ने बताया, ''मां माया गुप्‍ता और पिता मराछू गुप्‍ता बीमार रहते हैं। दो छोटे भाईयों विकास और कुश की जिम्मेदारी भी मुझपर है।''
    - ''किसी के सामने हाथ फैलाने के बजाए बीमार पिता की फुटपाथ पर चलने वाली चाय की छोटी सी दुकान की बागडोर करीब दो साल से संभाल रही हूं।''
    - ''पिता जी के पैरो में काफी दर्द रहता है, वो देर तक बैठ और खड़े नहीं रह सकते।''

    40 हजार रुपए की दी स्कॉलरशि‍प


    - बता दें, आरती बीकॉम कर चुकी है और सुबह से लेकर शाम तक चाय की दुकान पर मेहनत के बाद भी पढ़ाई को लेकर उसका हौसला नहीं टूटा।
    - पैसों की वजह से आगे की पढ़ाई बीटीसी में एडमिशन ने भविष्य में रुकावट डाल दी थी।

    - कुछ दिनों पहले मनोज सिन्हा के पीआरओ सिद्धार्थ राय को इस बात की जानकारी हुई, उन्होंने तत्काल रेल मंत्री तक बात को पहुंचाया। स्कॉलरशिप के जरिए 40 हजार रुपए का चेक मिला, जिससे एडमिशन ले पाईं।

    - शनिवार को मनोज सिन्हा खुद आरती से मिलने और हाथों की चाय पीने पहुंच गए।

    छोटे भाई भी काम में बटाते हैं हाथ

    - भाई विकास ने बताया, ''मैं और मेरा भाई कुश केन्‍द्रीय विद्यालय में पढ़ते हैं और स्‍कूल जाने से पहले और आने के बाद दुकान पर अपनी बहन का हाथ बटाते हैं।''

    - रेल राज्‍य मंत्री के लोकल पीआरओ सिद्धार्थ राय ने बताया, ''पढ़ाई में टॉपर छात्रा पर लोगों के जरिए रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा की नजर पड़ी। बेटी के भविष्य और पढ़ाई के प्रति लगन देख कर उन्होंने मदद का भरोसा दिया।''
    - ''मनोज सिन्हा ने आरती की बीटीसी की फीस के लिए 40 हजार रुपए की आर्थिक सहायता ही नहीं दिलाई, बल्कि बेटी के आग्रह पर बगैर किसी प्रोपेगंडा के उसकी चाय की दुकान पर हौंसला बढ़ाने भी पहुंचे।''
    - ''उन्होंने उसे भरोसा दिलाया कि उसकी शिक्षा में कोई रुकावट नही आने दी जाएगी।''

  • मोदी के मंत्री ने फुटपाथ पर लड़की को लगाया गले, पढ़ें इंस्पायरिंग स्टोरी
    +4और स्लाइड देखें
    मनोज स‍िन्हा ने पी छात्रा के हाथों से बने चाय।
  • मोदी के मंत्री ने फुटपाथ पर लड़की को लगाया गले, पढ़ें इंस्पायरिंग स्टोरी
    +4और स्लाइड देखें
    पिता के बीमार होने पर दो साल से काम संभाल रही है बेटी।
  • मोदी के मंत्री ने फुटपाथ पर लड़की को लगाया गले, पढ़ें इंस्पायरिंग स्टोरी
    +4और स्लाइड देखें
    कड़ी मेहनत कर बीमार मां-बाप और छोटे भाईयों की परव‍र‍िश कर रही आरती।
  • मोदी के मंत्री ने फुटपाथ पर लड़की को लगाया गले, पढ़ें इंस्पायरिंग स्टोरी
    +4और स्लाइड देखें
    आरती के छोटे भाई भी काम में बंटाते हैं हाथ।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Varanasi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Manoj Sinha Gives Scholarship To Student In Ghazipur
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Varanasi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×