Hindi News »Uttar Pradesh »Varanasi» Congress Accused These Allegations

मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!

पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों की बोट डिप्लोमेसी के बीच कांग्रेस ने बड़ा आरोप लगाया है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 13, 2018, 01:16 PM IST

  • मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!
    +7और स्लाइड देखें
    पोस्टर से ढंका नाला। इंटरनेट पर ये तस्वीर वायरल हुई है।

    वाराणसी.पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों की बोट डिप्लोमेसी के बीच कांग्रेस ने बड़ा आरोप लगाया है। आरोप है कि मैक्रों की नजर से गंदगी और बदबू दूर करने के लिए काशी के घाटों की कॉस्मेटिक सर्जरी की गई। कांग्रेस के मुताबिक, गंगा में खूशबू के लिए उसमें 5 क्विंटल के करीब इत्र डाला गया। हालांकि, बीजेपी की ओर से अभी तक इस आरोप पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। जब रियलिटी चेक करने पहुंच कांग्रेस की टीम...

    - सोमवार को पीएम मोदी और मैक्रों ने गंगा में नौका विहार किया।

    - इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ भी उनके साथ मौजूद थे।
    - इसके लिए बनारस में काशी के घाटों को दुल्हन की तरह सजाया गया था।
    - गंगा में गिरने वाले कई बड़े नालों के पास दोनों नेताओं के बड़े-बड़े होर्डिंग्स और पोस्टर्स लगाए गए थे।
    - इस बोट डिप्लोमेसी के बाद कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय राय ने घाटों की कॉस्मेटिक सर्जरी कराने का आरोप लगाया है।

    क्या कहा कमिश्नर ने?

    - वहीं, वाराणसी के कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण का कहना है कि गंगा में किसी तरह का इत्र नहीं डाला गया। साथ ही कहा- अफवाह नहीं उड़ाना चाहिए।

    - उन्होंने होर्डिंग मामले पर कहा- नालों को होर्डिंग्स से ढंकने की कोशिश नहीं की गई, बल्कि कई जगहों पर अलग-अलग सपोर्ट के होर्डिंग्स लगाए गए थे।

    नालों को ढंकने वाले पोस्टर्स हुए थे वायरल
    - अजय राय के मुताबिक, उनके साथ कांग्रेस की एक टीम रियलटी चेक करने मंगलवार सुबह अस्सी से दशाश्वमेध घाट तक गई।
    - उन्होंने गंगा के घाटों को पहले से भी दयनीय हालत में पाया।
    - उन्होंने कहा, 'भदैनी घाट के पास के नालों को पोस्टर्स से ढंकने की फोटो सोमवार को खूब वायरल हुई।'
    - 'यूरिनल की स्थिति ऐसी है कि बिना नाक दबाए नहीं रह पाएंगे।'
    - 'पूरा दौरा सरकार ने इवेंट मैनेजमेंट किया था।'

    'काला हो गया गंगा का पानी'
    - वहीं, कांग्रेस के जिला यूथ कॉर्डिनेटर राघवेंद्र चौबे ने बताया, 'इत्र डालने की वजह से गंगा का पानी और काला हो गया है।'
    - 'किनारे पर सिल्ट इकठ्ठा होने लगा है। कई क्विंटल माला फूल, गिलास, कचरा बिखरा पड़ा है।'
    - 'आज चाहिए था कि बीजेपी आह्वान करती कि सभी लोग आकर घाटों पर स्वछता अभियान चलाए, ताकि घाट साफ रहे।'

    33 नाले गिरते हैं गंगा में
    - स्वच्छ गंगा रिसर्च लेबॉटरी (संकट मोचन फाउंडेशन) के प्रेसिडेंट व बीएचयू प्रोफेसर विशंभर नाथ मिश्र ने बताया कि वर्तमान में 33 नाले गंगा में गिरते हैं।
    - '350 एमएलडी रॉ सीवेज सीधे गंगा में गिरता है। इससे खराब बात क्या हो सकती है कि मेहमानों के होर्डिंग से नालों को ढंक दिया गया।'
    - उन्होंने कहा, अगर गंगा में 5 क्विंटल इत्र डाला गया है, तो सीवेज के पानी में मिलकर बाद में वो बदबू देगा।'
    - 'लेकिन उसका असर गंगा में ज्यादा देर तक नहीं रहेगा, वो धारा के साथ आगे बढ़ जाएगा।'

    सिर्फ तीन सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट
    - जानकारी के मुताबिक, काशी में कुल तीन भगवानपुर (10एमएलडी), डीएलडब्लू (12एमएलडी) और दीनापुर (80 एमएलडी) सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लगे हैं।
    - जल प्रहरी ट्रस्ट के प्रेसिडेंट सजल ने बताया, 350 (मीलियन लीटर पर डे) X 10 लाख लीटर एमएलडी अवजल गंगा में नालों के जरिए गिर रहा है।
    - वहीं, ट्रीटमेंट के नाम पर केवल 102 एलएलडी तक ही ट्रीट हो पाता है।
    - 'सरकार को सबसे पहले गंगा में गिरने वाले सभी नालों को बंद या ट्रीटमेंट के बाद ही गिरने की व्यवस्था करनी चाहिए।'
    - 'दूसरा टिहरी जैसे बांधो से तत्काल पानी छोड़कर वास्तविक डिस्चार्ज को बढ़ाना चाहिए।'

    तब मोदी ने कहा था-माँ गंगा ने मुझे बुलाया है
    - 26 मई, 2014 को शपथ लेते वक्त मोदी ने गंगा की अविरलता और निर्मलता को लेकर अपना सबसे बड़ा ड्रीम प्रोजेक्ट बताया था।
    - केंद्र सरकार ने इसके लिए 20 हजार करोड़ रुपए भी पास किए।
    - बाकायदा योजना का मास्टर प्लान तैयार करने के लिए गंगा मंत्रालय भी बनाया गया।
    - गौरतलब है कि 24 अप्रैल, 2014 को मोदी ने जब लोकसभा चुनाव के लिए नॉमिनेशन भरा था- तब उन्होंने कहा था कि 'मां गंगा ने मुझे बुलाया है।'

  • मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!
    +7और स्लाइड देखें
    पोस्टर से ढंका नाला (दूसरे एंगल से)
  • मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!
    +7और स्लाइड देखें
    बजड़े पर मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों नौका विहार के दौरान।
  • मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!
    +7और स्लाइड देखें
    कांग्रेस की टीम घाट किनारे गंदगी दिखाते हुए।
  • मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!
    +7और स्लाइड देखें
    कांग्रेस का आरोप-घाटों की कॉस्मेटिक सर्जरी कराई गई।
  • मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!
    +7और स्लाइड देखें
  • मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!
    +7और स्लाइड देखें
  • मैक्रों की निगाह से ऐसे बचाए गंगा में गिरते नाले, बदबू ना आए इसलिए उड़ेला 500 किलो इत्र!
    +7और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Varanasi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Congress Accused These Allegations
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Varanasi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×