--Advertisement--

यहां पर मुस्लिम महिलाओं ने जमकर खेली होली, तीन तलाक पर गाए गीत

महिलाओं ने एक दूसरे पर रंग फेंकते हुए ढोल की थाप पर फागुन गीत के साथ तीन तलाक पर भी गाने गाए।

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 07:38 PM IST

वाराणसी| धर्म नगरी काशी में पांच दिनों से चल रहे होलीकोत्सव के तीसरे दिन बुधवार को मुस्लिम महिलाओं ने जमकर होली खेली। महिलाओं ने एक दूसरे पर रंग फेंकते हुए ढोल की थाप पर फागुन गीत के साथ तीन तलाक पर भी गाने गाए। इस दौरान महिलाओं ने होलिका के साथ तीन तलाक का दहन करने की बात कही।


होली का यह आयोजन मुस्लिम महिला फाउंडेशन और विशाल भारत संस्थान की ओर से किया गया। होली के जश्न में डूबी मुस्लिम महिलाओं ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में अपना सहयोग देने की भी बात कही।

समारोह में मुस्लिम महिला फाउंडेशन की नेशनल सदर नाजनीन अंसारी ने कहा कि एक दूसरे के त्योहारों में भागीदारी से ही नफरत की दीवार मिटेगी। उन्होंने कहा कि त्योहार मेल मिलाप के लिए होते हैं। उन्होंने जुमा के दिन नमाजियों से हिन्दू भाइयों से गले मिलकर बधाई देने की भी अपील की।


लखनऊ के नवाब भी खेलते थे होली


विशाल भारत संस्थान के अध्यक्ष डॉ. राजीव श्रीवास्तव ने कहा, 'होली तो लखनऊ के नवाब भी खेलते रहे। सुल्तान मुहम्मद बिन तुगलक ने तो हाथी पर चढ़कर होली खेली थी। आज पता नहीं क्यों मुस्लिम धर्मगुरु रंगों से दूर रहने को कहते हैं। होली देश का त्योहार है हर भारतीय को इस उत्सव को जम के मनाना चाहिए। मुस्लिम महिलाओं से सभी को सबक लेने की जरूरत है।