--Advertisement--

मुंह ऊपर करके न थूकें अखि‍लेश, खुद पर ही गिरेगा, योगी के मंत्री ने दी नसीहत

वाराणसी (यूपी). कासगंज हिंसा पर कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि स्थि‍ति सामान्य हो रही है।

Danik Bhaskar | Jan 29, 2018, 12:25 PM IST
सिद्धार्थ नाथ सिंह दो द‍िन के सिद्धार्थ नाथ सिंह दो द‍िन के

वाराणसी (यूपी). कासगंज हिंसा पर अखि‍लेश के बयान पर पलटवार करते हुए कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, ''विपक्ष तो एक खास जाति और संप्रदाय के लिए काम करता रहा है। अखिलेश जी को नसीहत है कि मुंह ऊपर करके न थूकें, नहीं तो अपने आप पर ही गिरेगा।'' बता दें, सिद्धार्थ नाथ सिंह दो दिन के वाराणसी दौरे पर हैं। यहां उन्होंने अस्पतालों का निरीक्षण किया और उनमें हो रहे निर्माण कार्य का जायजा लिया।

कासगंज हिंसा पर क्या बोले थे अखिलेश?


- कासगंज हिंसा पर बोलते हुए अखि‍लेश ने रविवार को कहा था, ''जो भी हुआ, उसके लिए यूपी सरकार जिम्मेदार है। सरकार भय फैलाकर लाभ लेना चाहती है।''
- अखि‍लेश ने ट्वीट कर यूपी सरकार से मृत युवक के परिजनों को 50 लाख रुपए मुआवजा और घायलों के उपचार का प्रबंध करने की मांग की थी।
- अखि‍लेश ने कहा था, जान माल की सुरक्षा के साथ जनता के नुकसान की भरपाई का हो इंतजाम। दबिश और कार्रवाई के नाम पर निर्दोषों पर ना हो अत्याचार।

नहीं चलेगी दबाव की राजनीत‍ि


- सिद्धार्थ नाथ सिंह ने योगी सरकार के मंत्री ओम प्रकाश राजभर के द्वारा अपनी ही सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाए जाने को लेकर कहा कि मोदी-योगी सरकार में दबाव की राजनीति नहीं चलेगी।

- जनहित में काम करने वाली ये सरकार है। आपस में बैठकर हम समाधान निकालने का प्रयास करेंगे।

- बता दें, कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था, ''योगी सरकार में बसपा और सपा से भी अधिक भ्रष्टाचार बढ़ गया है। कुछ विभागों के अफसर बिना पैसे लिए काम नहीं करते हैं। 10 महीने से इस सरकार में घुट- घुट कर जी रहा हूं। सरकार बार-बार दबा रही है, लेकिन अब बर्दाश्त नहीं हो रहा। मैं सत्ता का लोभी नहीं हूं, जरूरत पड़ी तो इस्तीफा दे दूंगा। कासगंज की घटना की जिम्मेदार प्रदेश सरकार के ही कुछ अधिकारी हैं।''