--Advertisement--

कभी 600 रुपए जॉब करता था ये शख्स, आज 5 करोड़ है टर्नओवर

गाजीपुर के कृष्ण कुमार ने एक इलेक्ट्रॉनिक की दुकान में 600 रुपए महीने की जॉब शुरू की थी।

Danik Bhaskar | Dec 08, 2017, 12:04 PM IST
गाजीपुर के रहने वाले कृष्ण कुमार की 3 फर्म हैं, जिनका एनुअल टर्नओवर 5 करोड़ से ज्यादा है। गाजीपुर के रहने वाले कृष्ण कुमार की 3 फर्म हैं, जिनका एनुअल टर्नओवर 5 करोड़ से ज्यादा है।

गाजीपुर (यूपी). कभी परिवार चलाने के लिए 600 रुपए की जॉब करने वाले कृष्ण कुमार ने 14 साल पहले खुद का बिजनेस शुरू किया। कृष्ण आज 3 फर्मों के मालिक हैं, जिसका एनुअल टर्नअोवर 5 करोड़ है। अपने पैशन और डेडि‍केशन से उन्होंने ये मुकाम हासिल किया है। उनके इस अचीवमेंट के बाद जिले में लोग उन्हें बिजनेस टाइकून 'केके' के नाम से जानते हैं।

परिवार की आर्थि‍क हालत ठीक करने को शुरू की जॉब

- कृष्ण कुमार गाजीपुर के गोराबाजार इलाके में रहते हैं।

- कृष्ण कुमार गुप्ता अपने तीन भाइयों में सबसे छोटे हैं। पिता रवींद्रनाथ मामूली सा कारोबार करते थे।
- परिवार की आर्थि‍क हालत सुधार लाने के मकसद से बड़े भाई राजेश ने मुंबई जाकर एक प्राइवेट नौकरी भी शुरू कर दी थी।
- 1997 में परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए कृष्ण ने एक दुकान पर 600 की नौकरी शुरू की।
- साल 2000 में जब कृष्ण ने अपनी खुद की फर्म स्थापित की तो उनके परिवार की आर्थिक हालत में कुछ सुधार हुआ, पिता ने उम्र की वजह से अपना पुराना कारोबार धीरे-धीरे छोड़ दिया।

कुछ ऐसी है 'केके' की सक्सेज स्टोरी

- कृष्ण ने बताया, ''इसी सैलरी में करीब 3 सालों तक उस दुकान में काम किया और इलेक्ट्रॉनिक के बिजनेस के विषय में जानकारी हासिल की। इसके बाद 'कृष्णा इलेक्ट्रॉनिक्स एंड रिपेयरिंग' के नाम से इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स की रिपेयरिंग की शॉप खोली।''

- ''लगन और बिजनेस में ईमानदारी की वजह से कुछ ही समय में नाम होने लगा। धीरे-धीरे इलेक्ट्रॉनिक पार्ट्स बेचने लगा। फि‍र इनवर्टर, बैटरी का बिजनेस शुरू कर दिया।''
- ''इस बीच कम्प्यूटर का मार्केट बढ़ने से कम्प्यूटर फील्ड में एक नए बिजनेस की शुरुआत की। 'कृष्णा कम्प्यूटर' के नाम से दूसरी फर्म शुरू की। छोटा जिला और कम्प्यूटर की बढ़ती मांग ने बिजनेस को चार चांद लगाया।''
- ''कुछ साल पहले 'ई-शॉप' नाम से इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्प्यूटर शोरुम की भी शुरुआत की।''

- ''छोटी सी नौकरी से शुरू किया हुआ सफर आज 3-3 फर्मों के मालिक के रूप में स्थापित है।''

- बता दें, कृष्ण के पास बाइक और स्विफ्ट डिजायर जैसी लग्जरी कार भी मौजूद है। तीनों फॉर्म में लगभग एक दर्जनभर से ज्यादा एम्प्लाइज काम करते हैं।

- कृष्ण का एनुअल टर्नओवर 5 करोड़ रुपए से ज्यादा है और जिले में उन्हें बिजनेस टाइकून 'केके' के नाम से जाना जाता है।

कम्प्यूटर और इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम के हैं शोरूम। कम्प्यूटर और इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम के हैं शोरूम।
कृष्ण ने 'ई-शॉप' नाम से इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्प्यूटर शोरुम की भी शुरुआत की।'' कृष्ण ने 'ई-शॉप' नाम से इलेक्ट्रॉनिक एंड कम्प्यूटर शोरुम की भी शुरुआत की।''
छोटी सी नौकरी से शुरू किया हुआ सफर आज 3-3 फर्मों के मालिक के रूप में स्थापित है। छोटी सी नौकरी से शुरू किया हुआ सफर आज 3-3 फर्मों के मालिक के रूप में स्थापित है।
कृष्ण के पास बाइक और स्विफ्ट डिजायर जैसी लग्जरी कार भी मौजूद है। कृष्ण के पास बाइक और स्विफ्ट डिजायर जैसी लग्जरी कार भी मौजूद है।
जिले में लोग कृष्ण को बिजनेस टाइकून 'केके' के नाम से जानते हैं। जिले में लोग कृष्ण को बिजनेस टाइकून 'केके' के नाम से जानते हैं।
कृष्ण कुमार गाजीपुर के गोराबाजार इलाके में रहते हैं। कृष्ण कुमार गाजीपुर के गोराबाजार इलाके में रहते हैं।