--Advertisement--

कमर में हाथ रख बोला बदमाश- आओ दिखाऊं, अतुल्य भारत किधर से ऊंचा है

छोटी बहन तान्या ने बताया, 'एक बदमाश ने मेरे कमर में हाथ रखा और बोला- आओ दिखाऊं, किसका अतुल्य इंडि‍या, कितना ऊंचा है।''

Dainik Bhaskar

Dec 17, 2017, 10:59 AM IST
these sisters save french tourist in mirzapur

वाराणसी. मिर्जापुर में 10 दिसंबर को लखनिया दरी घूमने गए फ्रांसीसी टूरिस्ट और उनके इंडियन फ्रेंड्स के साथ ड्रिंक किए लड़कों ने मारपीट और छेड़खानी की थी। इस दौरान उनके साथ बनारस की 'दत्ता सिस्टर्स' भी थीं, जिन्होंने बहादुरी दिखाते हुए लड़को को सबक सि‍खाया और उन्हें भागने पर मजबूर कर दिया। मामले में आठों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। जबकि दत्ता सिस्टर्स को यूपी सरकार की तरफ से सम्मानित किया जाएगा।

पि‍ता को है पैरालि‍सि‍स, 10 साल से हैं बेड पर

- बता दें, इन बहनों के पिता जयंत दत्ता पिछले 10 साल से पैरालिसि‍स की वजह से बेड पर हैं। मां चैताली दत्ता नर्स हैं।

- तीनों बहनें बच्चों को ट्यूशन पढ़ाकर परिवार की आर्थि‍क मदद करती हैं।

- मां ने बताया, ''पैसे नहीं होने की वजह से मकान मालिक ने घर छोड़ने को कहकर एक महीने से बिजली काट दी है।''

इसलिए है फ्रांसीसी टूरिस्ट से इमोशनल अटैचमेंट

- मां ने बताया, ''मेरी तीन बेटियां है। मंझली बेटी मिली कुछ महीनों पहले जल गई थी। काफी इलाज के बाद जब पैसे खत्म हो गए तो अजीर प्योर बनारस (पूरी तरह बनारस के) संस्था, जहां फ्रांसीसी फ्री में ट्रीटमेंट करते हैं, वहां गई। यहां इलाज कराया और मेरी बेटी ठीक हो गई, तबसे इन फ्रांसीसि‍यों से इमोशनल अटैचमेंट और फ्रेंडशिप हो गई।''

- ''मुझे गर्व है कि मेरी बेटियों ने टूरिस्ट की जान बचाने के लिए जान की बाजी लगा दी।''

आगे की स्लाइड्स में इन्फोग्राफि‍क्स में पढ़ें मिर्जापुर में 10 दिसंबर को क्या-क्या हुआ था...

X
these sisters save french tourist in mirzapur
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..