वाराणसी

--Advertisement--

एग्जाम सेंटर का इंस्पेक्शन करने पहुंचे DM, नहर में कूद कर भागे नकल माफिया

बलिया(यूपी). यूपी बोर्ड के एग्जाम नकलविहीन करने की सरकर की कवायद फेल होती दिखाई दे रही है।

Dainik Bhaskar

Feb 10, 2018, 12:25 PM IST
पुलिस को देख नकल माफिया खुद को बचाने के लिए पानी से भरी नहर में कूद पड़े और दूसरे पार जाकर अपनी जान बचाई। पुलिस को देख नकल माफिया खुद को बचाने के लिए पानी से भरी नहर में कूद पड़े और दूसरे पार जाकर अपनी जान बचाई।

बलिया(यूपी). यूपी बोर्ड के एग्जाम नकलविहीन करने की सरकर की कवायद फेल होती दिखाई दे रही है। शुक्रवार को सुबह की पाली में हाईस्कूल की इंग्लिश और दूसरी पाली में इंटरमीडिएट के मैथ एग्जाम था। एग्जाम सेंटर के बाहर नकल कराने वालों की जबर्दस्त भीड़ लगी हुई थी। इसकी सूचना जैसे ही डीएम को मिली, पूरी टीम के साथ मौके पर पहुंची। पुलिस को देख नकल कराने वाले पानी से भरी नहर में कूद पड़े और नहर उस पार जाकर अपनी जान बचाई। नकल कराने वालों की लगी थी जबर्दस्त भीड़...

- जिले के राम भवन इंटर कॉलेज सतहवा में शुक्रवार को बोर्ड एग्जाम चल रहा था। सेंटर में नकल की सूचना मिलते ही डीएम-एसपी पूरी टीम के साथ मौके पर पहुंचे।
- सेंटर के बाहर नकल कराने वालों की जबर्दस्त भीड़ लगी हुई थी। पुलिस को देखते ही अफरा-तफरी मच गई।
- दोनों अधिकारी दौड़े तो नकल माफिया खुद को बचाने के लिए कुछ पानी से भरी नहर में कूद पड़े और दूसरे पार जाकर अपनी जान बचाई।
- वहीं, व्यवस्थापक को हिदायत दी गई है कि आधार कार्ड से शक होने पर मिलान जरूर करवाएं और सेंटर के पास संदिग्ध लोग न रहे।

बर्थडेट बदलने के लिए दूसरी बार एग्जाम देते पकड़े गए

- वहीं, एग्जाम सेंटर में आधा दर्जन ऐसे स्टूडेंट भी पकड़े गए, जिनके एडमिट कार्ड पर लिखी बर्थडेट उनके पहचान पत्र से मिलान नहीं हो पाई।
- इसके साथ ही गोरखपुर निवासी मनोज कुमार दूसरी बार परीक्षा देते पकड़ लिया गया। इन सभी पर आवश्यक कार्रवाई के निर्देश डीएम ने दिए।
- इस दौरान जिलाधिकारी सुरेंद्र विक्रम व पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार टीमों को सक्रिय करने के साथ ही खुद भी दलबल के साथ निकल पड़े।


क्या कहना है DM का ?
- डीएम सुरेंद्र विक्रम ने बताया, ''यह जिला पिछले कुछ सालों से नकल को लेकर चर्चाओं में रहा है। इस बार सूचना मिली कि काफी लोग अपनीं बर्थडेट कम करने को लेकर दूसरी बार एक्जाम दे रहे हैं।''
- ''इंस्पेक्शन के दौरान 14 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए है। जिसमें हाई स्कूल के 10 और इंटर के 4 नकलची शामिल हैं। साथ ही एक कक्ष निरीक्षक को सस्पेंड कर दिया गया है।''

नकल माफियाओं की सूचना मिलते ही डीएम-एसपी के साथ मौके पर पहुंचे। नकल माफियाओं की सूचना मिलते ही डीएम-एसपी के साथ मौके पर पहुंचे।
डीएम सुरेंद्र विक्रम ने बताया- इंस्पेक्शन के दौरान 14 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए है। जिसमें हाई स्कूल के 10 और इंटर के 4 नकलची शामिल हैं। डीएम सुरेंद्र विक्रम ने बताया- इंस्पेक्शन के दौरान 14 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए है। जिसमें हाई स्कूल के 10 और इंटर के 4 नकलची शामिल हैं।
X
पुलिस को देख नकल माफिया खुद को बचाने के लिए पानी से भरी नहर में कूद पड़े और दूसरे पार जाकर अपनी जान बचाई।पुलिस को देख नकल माफिया खुद को बचाने के लिए पानी से भरी नहर में कूद पड़े और दूसरे पार जाकर अपनी जान बचाई।
नकल माफियाओं की सूचना मिलते ही डीएम-एसपी के साथ मौके पर पहुंचे।नकल माफियाओं की सूचना मिलते ही डीएम-एसपी के साथ मौके पर पहुंचे।
डीएम सुरेंद्र विक्रम ने बताया- इंस्पेक्शन के दौरान 14 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए है। जिसमें हाई स्कूल के 10 और इंटर के 4 नकलची शामिल हैं।डीएम सुरेंद्र विक्रम ने बताया- इंस्पेक्शन के दौरान 14 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए है। जिसमें हाई स्कूल के 10 और इंटर के 4 नकलची शामिल हैं।
Click to listen..