--Advertisement--

PM के प्रस्तावक का वोटर लिस्ट से नाम नहीं, बोले-मोदी से करूंगा शिकायत

वाराणसी से पीएम नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक रहे वीरभद्र निषाद वोटिंग नहीं कर पाए।

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 01:01 PM IST
वाराणसी समेत 25 जिलों के कुल 189 निकायों में वोटिंग हो रही है। वाराणसी समेत 25 जिलों के कुल 189 निकायों में वोटिंग हो रही है।

वाराणसी. उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव के दूसरे चरण के लिए आज वाराणसी समेत 25 जिलों के कुल 189 निकायों में वोटिंग हो रही है। एेसे में वाराणसी से पीएम नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक रहे वीरभद्र निषाद वोटिंग नहीं कर पाए। दरअसल, जब वो बूथ पर वोट डालने पहुंचे और लिस्ट चेक करवाया तो उनका नाम नहीं था। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिंदगी में इससे बड़ी बेइजत्ती हो ही नहीं सकती। वोटर लिस्ट में गड़बड़ी होने की वजह से मेरा नाम नहीं है, जिसकी शिकायत मैंने एडीएम प्रशासन से किया है। पहले भी कर चुके थे शिकायत...

- वीरभद्र निषाद ने कहा, "सोमवार को इसकी शिकायत सबसे पहले पीएम नरेंद्र मोदी के जनसंपर्क आफिस में जाकर करूंगा। अगली शिकायत नरेंद्र मोदी से करूंगा, आपके संसदीय क्षेत्र में अधिकारीयों की लापरवाही से प्रस्तावक का नाम भी वोटर लिस्ट से गायब हो गया।
- वहीं, एडीएम प्रशासन एमएन उपाध्याय ने बताया, "उन्होंने शिकायत किया था। जिस समय उन्होंने बताया उस समय करेक्शन संभव नहीं था। आज भी उन्होंने शिकायत किया है, कैसे नाम छूट गया इसका जरूर पता किया जाएगा।"
- बता दें, भारत के 15वें प्रधानमंत्री के रूप में 26 मई 2014 को राष्ट्रपती भवन में नरेंद्र मोदी ने शपथ लिया। कई देशों के प्रतिनिधियों के साथ बनारस से मोदी के प्रस्तावक रहे वीरभद्र निषाद को विशेष आमंत्रण पर गेस्ट बुलाया गया था। स्थानीय नेता उनको लेकर राष्ट्रपती भवन भी गए थे। उस समय दुनियां की निगाहें शपथ ग्रहण और उससे पहले नामांकन पर टिकी थी।

परिवार में हैं 10 लोग

- वीरभद्र ने बताया, "वो गंगा पुत्र है। बचपन में चौबेपुर गांव में जब वो रहते थे ,तो 15 साल की उम्र में पिताजी के साथ नाव का कारोबार करते थे।

- उस ज़माने में 120 नांव का कारोबार किया करते थे। पाकिस्तान तक उनके नाव गए है।

- आज 10 लोगों का परिवार है। 6 बेटे हैं और 2 लड़किया सभी की शादी हो चूकी है। परिवार में गरीबी के चलते केवल 2 नाव बची है।

- गरीबी के चलते शुगर मिल में मजदूरी करता हूं। बाद में परिवार चलाने के लिए रेलवे के ठेकेदारों के यहां मजदूरी भी करता था।"

पीएम नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक रहे वीरभद्र निषाद वोटिंग नहीं कर पाए। पीएम नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक रहे वीरभद्र निषाद वोटिंग नहीं कर पाए।
जब वो बूथ पर वोट डालने पहुंचे और लिस्ट चेक करवाया तो उनका नाम नहीं था। जब वो बूथ पर वोट डालने पहुंचे और लिस्ट चेक करवाया तो उनका नाम नहीं था।
X
वाराणसी समेत 25 जिलों के कुल 189 निकायों में वोटिंग हो रही है।वाराणसी समेत 25 जिलों के कुल 189 निकायों में वोटिंग हो रही है।
पीएम नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक रहे वीरभद्र निषाद वोटिंग नहीं कर पाए।पीएम नरेंद्र मोदी के प्रस्तावक रहे वीरभद्र निषाद वोटिंग नहीं कर पाए।
जब वो बूथ पर वोट डालने पहुंचे और लिस्ट चेक करवाया तो उनका नाम नहीं था।जब वो बूथ पर वोट डालने पहुंचे और लिस्ट चेक करवाया तो उनका नाम नहीं था।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..